DA Image
3 मार्च, 2021|11:11|IST

अगली स्टोरी

उत्तराखंड में छठी से आठवीं तक के स्कूल 01 फरवरी से खोलने की तैयारी

punjab school re-open

उत्तराखंड में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू होने और कोरोना संक्रमण की दर कम होती देख सरकार ने पांचवीं से ऊपर की सभी कक्षाओं को खोलने की तैयारी शुरू कर दी। इसकी शुरुआत नवीं और ग्यारहवीं कक्षा से की जाएगी। जबकि छठी से आठवीं तक की कक्षाओं को एक फरवरी से खोलने की योजना है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने शिक्षा निदेशक आरके कुंवर को स्कूल खोलने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए हैं। स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि इस पर अंतिम निर्णय कैबिनेट में लिया जाएगा।

इससे पहले विभागीय प्रस्ताव लिया जा रहा है। अफसरों को कहा गया है कि प्रस्ताव में अभिभावकों की राय अवश्य शामिल करें। स्कूल खोलने का निर्णय पूर्व की तरह अभिभावकों की राय से ही होगा। बता दें कि विगत साल दो नवंबर से सात महीने के लॉकडाउन के बाद प्रदेश के स्कूल खुल गए हैं। प्रथम चरण में माध्यमिक स्कूलों में केवल कक्षा 10 और 12 वीं के छात्रों को आने की अनुमति होगी। केवल वे ही छात्र स्कूल आ सकते हैं, जिनके अभिभावक उन्हें मंजूरी देंगे। सर्दियों के समय के अनुसार सुबह 9.15 बजे सभी स्कूल खुल गए हैं।

शिक्षा सचिव आर. मीनाक्षीसुंदरम ने शिक्षा निदेशक और सभी नोडल अफसरों को व्यवस्था पर अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। कोरेाना संक्रमण की शुरूआत पर 14 मार्च से राज्य के सभी शैक्षिक संस्थानों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। 231 दिन बंद रहने के बाद सोमवार से स्कूल खोलने का पहला चरण शुरू होने जा रहा है। शिक्षा सचिव ने बताया कि स्कूल संचालन के लिए विस्तृत एसओपी जारी की जा चुकी है। हर स्कूल का प्रधानाचार्य नोडल अधिकारी बनाया गया है।

नोडल अधिकारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए तय मानकों के पालन के लिए जिम्मेदार होंगे। कोरोना महामारी की वजह से स्कूल का फार्मेट भी बिलकुल बदलने जा रहा है। ऐेसे कई नए मानक लागू किए गए हैं, जो अब पहले कभी सोचे तक नहीं गए थे। सुबह स्कूल मैदान में होने वाली प्रार्थना सभा कल से नहीं होगी। छात्र क्लासरूम में ही सुबह की प्रेयर कर सकते हैं। इसके साथ ही सभी प्रकार की सांस्कृतिक और खेल गतिविधियां भी प्रतिबंधित रहेंगी।

सर्दी, खासी, जुकाम और बुखार की शिकायत मिलने पर सबंधित कामिक और छात्र को स्कूल से लौटा दिया जाएगा छात्रों को स्कूल में होने वाले स्वच्छता अभियानों में शामिल नहीं किया जाएगा स्कूल में कोरोना पॉजिटिव मामला प्रकाश में आने पर तत्काल शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग को सूचना देनी होगी। एसओपी का उल्लंघन होने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

निजी स्कूल भी कर रहे पैरवी
निजी स्कूल भी पांचवीं से ऊपर की सभी कक्षाओं को खोलने की पैरवी कर रहे हैं। पीपीएसए के अध्यक्ष प्रेम कश्यप के अनुसार कोरोना का संक्रमण अब नियंत्रित है। ऐसे में बच्चों की पढ़ाई का नुकसान करना ठीक नहीं होगा। कोरोना संक्रमण के लिए तय एसओपी का सख्ती से पालन करते हुए सरकार को स्कूल को खोलने की अनुमति दे देनी चाहिए।

बदल जाएगा स्कूली जीवन: 
-मास्क के बिना किसी को भी स्कूल में एंट्री नहीं
-अभिभावक की लिखित मंजूर के बाद ही छात्र आएंगे स्कूल
-प्रार्थना सभा, सभी खेल-सांस्कृतिक, मनोरंजन की गतिविधियां रहेगी प्रतिबंधित
-सभी शिक्षक-कार्मिक-छात्रों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा
-थर्मल जांच, हाथ सेनटाइज करने के बाद ही स्कूल में मिलेगी एंट्री
-हर पाली के बाद प्रत्येक कक्षा का सेनेटाइजेशन किया जाएगा
-कक्षा में दो छात्रों के बैठने के बीच में छह फीट की अनिवार्य दूरी
-स्कूल बस-वैन का प्रतिदिन सेनेटाइजेशन और सोशल डिस्टेसिंग से संचालन

 


शिक्षा निदेशक ने स्कूल खोलने का प्रस्ताव सरकार को भेजा
देहरादून।
स्कूलों में छठी से 11 वीं तक की कक्षाओं को भी दोबारा शुरू करने के लिए शिक्षा विभाग ने तेजी पकड़ ली। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के निर्देश के 24 घंटे के भीतर ही शिक्षा निदेशालय ने प्रस्ताव तैयार कर सरकार को भेज दिया। सरकार की योजना नवीं और 11 वीं कक्षा को जल्द शुरू करने की है। जबकि छठी से आठवीं तक की कक्षाओं को एक फरवरी से खोलने का इरादा है।  शिक्षा मंत्री ने बीते रोज विभागीय समीक्षा बैठक में इसके निर्देश दिए दिए। संपर्क करने पर शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने बताया कि स्कूल खोलने के बाद शासन को प्रस्ताव भेज दिया गया है। इसमें कक्षा नौ और 11 वीं तथा छठी से आठवीं कक्षाओं को लेकर दोनों ही बिंदु शामिल हैं। सूत्रों इस प्रस्ताव के आधार पर कैबिनेट में चर्चा की जाएगी शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्कूल में छात्र को प्रवेश उनके अभिभावकों की अनुमति से ही दिया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:education department plans to reopen government schools a corona cases come down class 6 to class 8 reopen on february 01 after covishield vaccination corona vaccine