ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडउत्तरकाशी टनल में फंसे 41 लोगों के लिए जीवन तलाशेगा DRDO का ‘दक्ष’ रोबोट, जीवनदान को बना यह प्लान 

उत्तरकाशी टनल में फंसे 41 लोगों के लिए जीवन तलाशेगा DRDO का ‘दक्ष’ रोबोट, जीवनदान को बना यह प्लान 

डीआरडीओ के ‘दक्ष’ रोबोट से टनल के अंदर जीवन तलाशने की कोशिश होगी। अधिकारियों का कहना था कि टनल के अंदर मलबे के ऊपरी भाग की ओर जांच होगी। उत्तरकाशी टनल हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

उत्तरकाशी टनल में फंसे 41 लोगों के लिए जीवन तलाशेगा DRDO का ‘दक्ष’ रोबोट, जीवनदान को बना यह प्लान 
Himanshu Kumar Lallउत्तरकाशी, लाइव हिन्दुस्तानMon, 20 Nov 2023 02:52 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के सिलक्यारा में टनल में फंसे लोगों की जान बचान को रेस्क्यू  ऑपरेशन जारी है। पिछले 9  दिनों से टनल के अंदर फंसे 41 लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए बचाव दल के सभी प्लान फेल हो चुका है। ऐसे में अब बचाव दल ने ‘रोबोट’ का सहारा लेने का मन बना लिया है।

डीआरडीओ के ‘दक्ष’ रोबोट से टनल के अंदर जीवन तलाशने की कोशिश की जाएगी। रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे अधिकारियों का कहना था कि टनल के अंदर मलबे के ऊपरी भाग  की ओर से जांच की जाएगी। जांच के बाद और टनल के अंदर तक स्थिति का पूरा जायाजा लेने के बाद ही आगे की रणनीति बनाई जाएगी।

विदित हो कि टनल के अंदर फेसे लोगों को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू टीम कई प्लान पर काम कर रही है। लेकिन, चिंता की बात है कि पिछले 9 दिनों से बचाव दल के हाथ विफलता ही लगी है। दूसरी ओर, सूत्रों की बात मानें तो टनल के अंदर फंसे लोगों की तबीयत भी खराब हो रही है।  

यह भी पढ़ें: उत्तरकाशी टनल में फंसे 41 लोगों के लिए महिलाएं बनी लाइफलाइन, रेस्क्यू ऑपरेशन में लगाई जी-जान

6 इंच का नया पाइप 40 मीटर पार
टनल में खुदाई करने के साथ ही रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है। टनल के अंदर ड्रिल करने की वजह से पाइप खराब हो गई थी। आनन-फानन में रेस्क्यू टीम ने नया पाइप से काम शुरू किया। सोमवार दोपहर को बचाव दल को सफलता हाथ लगी जब एक 6 इंच का नया पाइप टनल के अंदर 40 मीटर पार हो गया। 

टनल के ऊपर पहुंची ड्रिलिंग मशीन
उत्तरकाशी टनल हादसे में फंसे 41 लोगों को बाहर निकालने के लिए कई प्लान पर काम किया जा रहा है। टनल के अंदर ड्रिलिंग से लेकर अन्य विकल्पों पर ही विचार किया जा रहा है। बचाव दल की ओर से ड्रिलिंग के लिए प्लेटफार्म तैयार किया गया है। टनल में बड़कोट की ओर से खुदाई का काम शुरू किया गया है। उम्मीद जताई जा रही है रेस्क्यू टीम को सफलता मिल सकती है। दूसरी ओर, पीएमओ की टीम भी मौके पर मौजूद है।  

अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ प्रो अर्नोल्ड डिक्स उत्तरकाशी पहुंचे
दुनियाभर में भूमिगत सुरंगों के निर्माण और जोखिम से निपटने की काबलियत रखने वाले अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ प्रो अर्नोल्ड डिक्स ने सिलक्यारा पहुंचकर  सुरंग के अंदर और बाहर का निरीक्षण, बचाव कार्य मे जुटी एजेंसियों से बातचीत की है। डिक्स ने भरोसा दिया कि श्रमिकों को जल्द सुरक्षित बचा लिया जाएगा