ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडडीएम-एसडीएम और मंत्री मेरी जेब में हैं! अंकिता मर्डर केस का मुख्य अरोपी पुलकित आर्य की हनक 

डीएम-एसडीएम और मंत्री मेरी जेब में हैं! अंकिता मर्डर केस का मुख्य अरोपी पुलकित आर्य की हनक 

अंकिता हत्याकांड से भोगपुर के ग्रामीण खासे आक्रोशित है। कहना है कि आरोपी अपने रसूख का खौफ क्षेत्रवासियों पर दिखाता था। कहता था कि डीएम मेरी जेब में, एसडीएम दूसरी जेब में और मंत्री पिछली जेब में।

डीएम-एसडीएम और मंत्री मेरी जेब में हैं! अंकिता मर्डर केस का मुख्य अरोपी पुलकित आर्य की हनक 
Himanshu Kumar Lallऋषिकेश, वरिष्ठ संवाददाता।Mon, 26 Sep 2022 09:21 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अंकिता हत्याकांड से भोगपुर के ग्रामीण खासे आक्रोशित है। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी अपने रसूख का खौफ क्षेत्रवासियों पर दिखाता था। वह कहता था कि डीएम मेरी जेब में, एसडीएम दूसरी जेब में और मंत्री पिछली जेब में है। क्षेत्रवासी दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे है। ग्रामीण यह भी चेता रहे हैं यदि सरकार ने रिजॉर्ट नहीं तोड़ा वह स्वयं बुलडोजर चलाकर तोड़ देंगे। 

गंगाभोगपुर के ग्रामीण हत्यारोपी पुलकित आर्य के कारनामों से खासे दुखी हैं।  ग्रामीणों का कहना है कि पुलकित जरा-जरा की बातों पर लोगों से झगड़ने लगता था। क्षेत्रवासी अर्जुन भंडारी बताते है कि क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक रिसॉर्ट है, जिनका गंदा पानी गंगा में जाता है। हत्या के आरोपी पुलकित के रिजॉर्ट का गंदा पानी भी गंगा में मिलता है।

यहीं नहीं कूड़ा तक गंगा में फेंका जाता है। जबकि जंगल से खुलेआम लकड़ी लाकर होटल का खाना तक बनाया जाता है। शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती है। ग्रामीणा साहब सिंह भी रिजॉर्ट स्वामी की हरकतों से खासे परेशान हैं। वह कहते हैं कि सरकार ने रिजॉर्ट पर बुलडोजर न चलाया तो वह स्वयं की कानून हाथ में लेकर उस पर बुलडोजर चलवाएंगे।

ऋषिकेश में दो टीमों का गठन : ऋषिकेश। एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि ऋषिकेश तहसील में आने वाले होटल, रिजॉर्ट, स्टे होम की जांच के लिए दो टीमें गठित की गई हैं।  एक टीम एसडीएम के नेतृत्व में रानीपोखरी, भोगपुर, गडूल क्षेत्र और दूसरी टीम तहसीलदार ऋषिकेश के नेतृत्व में ऋषिकेश, रायवाला, छिद्दरवाला में निरीक्षण करेगी।  टीम में एमडीडीए, सिंचाई विभाग, पीडब्लूडी, पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को शामिल किया  गया है। तहसील प्रशासन का कहना है कि जांच की जा रही है। 

पटवारी और पुलकित के गठजोड़ पर भी उठाए सवाल
क्षेत्रवासियों आरोप है कि पौड़ी प्रशासन ने पटवारी विवेक कुमार को गलत सस्पेंड किया है। जबकि क्षेत्र के पटवारी वैभव प्रताप के अचानक अवकाश पर जाने के बाद विवेक को अतिरिक्त चार्ज दिया गया। आरोप लगाया कि क्षेत्र के पटवारी वैभव प्रताप और पुलकित के बीच अच्छे संबंध है। वैभव प्रताप अक्सर पुलकित के रिजॉर्ट में ही आता था। ग्रामीणों ने दोनों के बीच गठजोड़ पर सवाल उठाए हैं। मामले में एसडीएम प्रमोद कुमार का कहना है कि घटना की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही मामले की सही जानकारी सामने आयेगी। 

अनियमितता : गंगा भोगपुर में तीन रिजॉर्ट किए सील
ऋषिकेश, संवाददाता। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के बाद उत्तराखंड में होटल और रिजॉर्ट पर कार्रवाई शुरू हो गई। रविवार को यमकेश्वर तहसील प्रशासन ने गंगा भोगपुर में संचालित तीन रिजॉर्ट के खिलाफ कार्रवाई की।  सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सभी रिजॉर्ट की जांच के निर्देश दिए हैं। इससे हरकत में आए जिम्मेदार विभागों ने जांच शुरू कर दी है।

अंकिता हत्याकांड के बाद सुर्खियों में आए गंगा भोगपुर क्षेत्र में रविवार शाम यमकेश्वर के प्रभारी एसडीएम प्रमोद कुमार के नेतृत्व में टीम गंगा भोगपुर क्षेत्र में पहुंची। यहां पर संचालित होटल और रिजॉर्ट में चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान राजाजी टाउन एंड डाउन रिजॉर्ट एंड कैफे, पनामी रिजॉर्ट और नीरज रिजॉर्ट में अनियमिता पाए जाने पर सील की कार्रवाई की गई।  एसडीएम प्रमोद कुमार ने बताया कि आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी