DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ नहीं थम रहा तीर्थ-पुरोहितों का गुस्सा,तीसरे दिन भी विराेध कर कहीं ये बातें 
उत्तराखंड

देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ नहीं थम रहा तीर्थ-पुरोहितों का गुस्सा,तीसरे दिन भी विराेध कर कहीं ये बातें 

हिन्दुस्तान टीम, अल्मोड़ा Published By: Himanshu Kumar Lall
Sun, 13 Jun 2021 06:51 PM
देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ नहीं थम रहा तीर्थ-पुरोहितों का गुस्सा,तीसरे दिन भी विराेध कर कहीं ये बातें 

देवस्थानम बोर्ड भंग करने की मांग को लेकर गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के तीर्थपुरोहितों ने तीसरे दिन रविवार को भी काली पट्टी बांधकर विरोध जताया। इस दौरान उन्होंने सरकार के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की और मांग पूरी नहीं होने तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी। रविवार को गंगोत्री एवं यमुनोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों ने मंदिर परिसर में काली पट्टी बांधकर सरकर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। तीर्थ पुरोहितों ने कहा कि वह लंबे समय से सरकार से देवस्थानम बोर्ड भंग करने की मांग कर है, लेकिन सरकार उनकी मांग पर ध्यान नही दे रही है। जिससे दिन प्रतिदिन तीर्थपुरोहितों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

कहा कि यह इतिहास में पहली बार हो रहा है, जब तीर्थपुरोहित धामों में काली पट्टी बांध कर पूजा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएम देवस्थानम बोर्ड पर पुनर्विचार की अपनी घोषणा पर कायम नहीं रहे तो चारों धामों में बड़ा आंदोलन किया जाएगा। गंगोत्री मंदिर समिति के सहसचिव राजेश सेमवाल ने कहा कि यदि शीघ्र ही मांग पूरी नहीं हुई तो 21 जून से अनिश्चितकालीन धरना शुरू होगा। तीसरे दिन धरने पर बैठने वालों में समिति के सचिव दीप सेमवाल, सह सचिव राजेश सेमवाल, रविंद्र सेमवाल, सुभाष सेमवाल, राकेश, सुनील, राकेश सेमवाल, शिव प्रसाद सेमवाल, सूर्य प्रकाश सेमवाल, बद्री प्रसाद सेमवाल, संजय सेमवाल आदि मौजूद रहे।
 

संबंधित खबरें