DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड: 9 दिन बाद सुरक्षित निकाले लोखंडी में फंसे दिल्ली के पर्यटक

Delhi tourist

नौ दिनों से लोखंडी में फंसे दिल्ली के चार पर्यटकों को मंगलवार देर शाम तहसील प्रशासन, पुलिस और एसडीआरएफ ने संयुक्त अभियान चलाकर रात नौ बजे सभी पर्यटकों को सकुशल चकराता पहुंचा दिया गया।

20 जनवरी को दिल्ली के चार पर्यटक सैय्यद अफसाज निवासी मालवीय नगर दिल्ली, कादरी निवासी मालवीय नगर दिल्ली, जोयल शालोन निवासी नोएडा, यूपी और अधिराज आदित्य सिंह निवासी रोहिणी दिल्ली चकराता घूमने आए थे। वे यहां लोखंडी स्थित एक होटल में रुके। मंगलवार तड़के हुई भारी बर्फबारी के बाद से चारों पर्यटक और उनकी गाड़ी लोखंडी में फंसी हुई थी। 27 जनवरी की दोपहर पर्यटकों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो डाली। जिसके बाद आपके प्रिय हिन्दुस्तान ने उनकी खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल व खबर प्रकाशित होने के बाद प्रशासन हरकत में आया। सोमवार देर शाम से ही उन्हें निकालने के प्रयास शुरू हो गए।

तहसीलदार केएस नेगी और एसओ अनूप सिंह नयाल के नेतृत्व में मंगलवार को एसडीआरएफ, पुलिस व तहसील की टीम ने सुबह 10 बजे से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। टीम करीब 12 किलोमीटर पैदल चलने के बाद लोखंडी पहुंची। तहसीलदार केएस नेगी ने बताया कि पर्यटकों को रेस्क्यू कर सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। उनकी गाड़ी निकालने का भी प्रयास किया जा रहा है।

लोखंडी से निकले ज्याडी में फंसे
लोखंडी से दस किमी निकलने के बाद पर्यटक ज्याड़ी में फंस गए। वहां बर्फ के ऊपर पाले के चलते पैर फिसलने लगे। इससे वे आगे नहीं बढ़ पा रहे थे। ऐसे में लोनिवि की जेसीबी और बर्फ कटर मंगाया गया उससे रास्ता बनाने का प्रयास शुरू कर दिया गया। पर्यटकों को वहां से निकालने के बाद देर रात तक चकराता लाया जा सका।

पर्यटकों ने होटल मालिक का आभार जताया
चकराता। रेस्क्यू के बाद लोखंडी से बाहर निकले पर्यटक अफसान कादरी ने कहा कि होटल मालिक और स्थानीय लोगों ने उनका बहुत सहयोग किया। राशन खत्म होने पर होटल मालिक दूसरे गांव तक पैदल जाकर उनके लिए राशन लाए। इतना ही नहीं, उन्होंने मोबाइल फोन चार्ज कराकर परिजनों से संपर्क भी कराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhi tourists rescued after 9 days trapped in snowfall in Uttarakhand