DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्या कर जंगल में क्यों फेंक डाली प्लंबर की लाश ? पढ़िए पूरा सच

आठ दिन पहले दोस्त संग पंजाब जाकर नौकरी करने की बात कहकर निकले अधेड़ का शव शुक्रवार दोपहर तुंतोवाला के जंगल में पड़ा मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तो मृतक के सिर में गहरे घाव थे और नाक कटी हुई थी। शव भी कई दिन पुराना प्रतीत हो रहा था। पुलिस मान रही है कि नौकरी की बात कहकर साथ ले गए आरोपी ने उसी दिन अधेड़ की हत्या कर शव जंगल में फेंक दिया होगा। अधेड़ के साथ गया आरोपी पत्नी समेत घर से फरार है। उसके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एसपी सिटी पीके राय ने बताया कि शुक्रवार दोपहर तुंतोवाला में आबादी से करीब 200 मीटर दूर जंगल से लोगों को कुछ सड़ने की गंध आई। पास जाकर देखा तो वहां शव पड़ा था। इसकी सूचना लोगों ने तत्काल पुलिस को दी। पुलिस ने मृतक की पहचान नवीन उप्रेती (45) निवासी पाटियो, मोहब्बेवाला के रूप में की। एफएलएल टीम बुलाकर पुलिस ने जांच की तो मृतक के सिर में चोट के गहरे घाव थे, जबकि नाक भी कटी थी। मौके पर फोटो-वीडियोग्राफी के साथ खून और कपड़ों के सैंपल लिए। पुलिस ने बताया कि नवीन उप्रेती बोरिंग-प्लंबर का काम करते थे। शव को मोर्चरी में रखवा दिया है और शनिवार को पोस्टमार्टम कराया जाएगा। इधर, इंस्पेक्टर पटेलनगर एसएस नेगी ने बताया कि नवीन की हत्या में अवैध संबंध के एंगल पर भी पुलिस जांच कर रही है।

आरोप
अनिल लेकर गया था साथ

मृतक के परिजनों ने पुलिस को बताया कि 30 नवंबर को पित्थूवाला में किराये पर रहने वाला अनिल उर्फ गजेंद्र उनके घर आया। वह नवीन को पंजाब में नौकरी की बात कहकर लेकर चला गया। घर से निकलने के कुछ वक्त बाद ही दोनों के मोबाइल नंबर बंद हो गए। पुलिस को सूचना दिए बिना ही नवीन के परिजन उनकी तलाश कर रहे थे। इस बीच शुक्रवार को नवीन का शव जंगल में पड़ा मिला तो उनके परिजन दहशत में आ गए। हत्या से पहले नवीन का घर से अनिल के साथ जाने का पता लगते ही पुलिस ने उसके पित्थूवाला स्थित किराए के कमरे पर दबिश दी। कमरे पर पुलिस पहुंची तो पता लगा कि वह पत्नी ज्योति समेत कई दिनों से कमरे पर नहीं पहुंचा है। दंपति के फरार होने पर उन पर ही पुलिस का शक गहरा गया है।

सौंग में मिले शव मामले में पुलिस खाली हाथ 
29 नवंबर को सौंग नदी में धन्याड़ी धर्मकांटे से चार किलोमीटर भीतर नदी में मिले राजेश गैरोला के हत्यारों का पुलिस पता नहीं लगा पाई है। घटना के बाद मौके पर पहुंची एसएसपी समेत आला अफसरों ने जल्द खुलासे की बात कही थी, लेकिन कोई मजबूत साक्ष्य और सीसीटीवी फुटेज से सुराग नहीं मिलने के चलते पुलिस नाकाम रही। मुकदमे के बाद पुलिस अफसरों के सुर भी बदल गए हैं। हत्या का रुख मोड़ने के लिए कहा जा रहा है कि मृतक बाइक से नदी में खुद गिरा होगा और सिर में चोट लगने से मौत हो गई होगी। हालांकि मौके पर शव और उससे आधा किलोमीटर दूर खून के धब्बे मिले, उससे इस पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। उधर, एसएसआई रायपुर संजय मिश्रा ने बताया कि मृतक के साथ आखिरी वक्त देखा गया शख्स अभी भी फरार है। 

अनिल और उसकी पत्नी पर हत्या का केस
इंस्पेक्टर पटेलनगर सूर्यभूषण नेगी ने बताया कि मृतक नवीन के बेटे की तहरीर पर अनिल उर्फ गजेंद्र और उसकी पत्नी ज्योति के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि मृतक नवीन और अनिल के नंबर की कॉल डिटेल निकालकर पुलिस हत्यारोपियों की तलाश कर रही है। वहीं अनिल का मोबाइल भी शव के पास से गायब था। आरोपी अनिल पित्थूवाला से पहले नवीन के घर में ही किराये पर रहता था।  

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:dead body of plumber found in tuntowala forest in dehradun