ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडCovid-19: उत्तराखंड में बेकाबू होता कोरोना,पर्यटक,छात्र सहित 4482 पॉजिटिव, छह संक्रमितों की मौत

Covid-19: उत्तराखंड में बेकाबू होता कोरोना,पर्यटक,छात्र सहित 4482 पॉजिटिव, छह संक्रमितों की मौत

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के साथ ही मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को राज्य में कोरोना के 4482 नए मरीज मिले और छह संक्रमितों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार...

Covid-19: उत्तराखंड में बेकाबू होता कोरोना,पर्यटक,छात्र सहित 4482 पॉजिटिव, छह संक्रमितों की मौत
Himanshu Kumar Lallलाइव हिन्दुस्तान, देहरादूनTue, 18 Jan 2022 06:46 PM

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के साथ ही मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को राज्य में कोरोना के 4482 नए मरीज मिले और छह संक्रमितों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार मंगलवार को राजधानी देहरादून में 1648 नए मरीज मिले। सके अलावा अल्मोड़ा में 207, बागेश्वर में 81, चमोली में 202, चम्पावत में 104, हरिद्वार में 582, नैनीताल में 644, पौड़ी में 270, पिथौरागढ़ में 30, रुद्रप्रयाग में 75, टिहरी गढ़वाल में 157, यूएस नगर में 398 और उत्तरकाशी में 45 नए मरीज मिले हैं।

मंगलवार को राजधानी देहरादून में पांच संक्रमितों की मौत हो गई। जबकि हरिद्वार के अस्पताल में भी एक मरीज ने दम तोड़ा है। इसके साथ ही राज्य में कुल मरीजों की संख्या तीन लाख 77 हजार से अधिक हो गई है। जबकि मरने वालों का आंकड़ा 7450 पहुंच गया है। राज्य में मंगलवार को 32 हजार के करीब सैंपलों की रिपोर्ट आई जबकि 33 हजार से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। राज्य में संक्रमण की दर 13.50 प्रतिशत जबकि मरीजों के ठीक होने की दर 90 प्रतिशत रह गई है।

एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 20 हजार के पार
राज्य में तेजी से बढ़ते संक्रमण के बाद अब एक्टिव मरीज बढ़ गए हैं। मंगलवार को 4482 नए मरीज आने के बाद राज्य में एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 20 हजार 620 हो गया है। मंगलवार को राज्य भर में 1865 मरीजों को होम आईसोलेशन व अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। राजधानी देहरादून में सबसे अधिक एक्टिव मरीज हैं। जहां 8664 मरीज इलाज करा रहे हैं।

ऋषिकेश में 140 पर्यटकों समेत 230 कोरोना पॉजिटिव
ऋषिकेश में मंगलवार को लक्ष्मणझूला, मुनिकीरेती और ऋषिकेश में कोरोना का विस्फोट हुआ है।140 पर्यटकों सहित 230 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। कोरोना के नए वैरिंएट के मद्देनजर तीर्थनगरी ऋषिकेश और आसपास के क्षेत्र में कोरोना जांच बढ़ने लगी है। यमकेश्वर विकास खंड के कोविड नोडल अधिकारी डा. राजीव कुमार ने बताया कि मंगलवार को 130 पर्यटकों सहित 144 कोरोना के नए केस आए हैं। बताया कि संक्रमितों में 14 स्थानीय हैं, जिन्हे होम आइसोलेट कर दिया गया है।

मुनिकीरेती में कोविड नोडल अधिकारी डा. जगदीश जोशी ने मंगलवार को तपोवन चेकपोस्ट पर पर्यटकों और स्थानीय लोगों का एंटीजन रैपिड टेस्ट किया जा रहा है। जिसमें मंगलवार को 10 पर्यटक समेत 31 लोग कोरोना पॉजिटिव आए हैं। वहीं, ऋषिकेश सरकारी अस्पताल के स्वास्थ्य पर्यवेक्षक एसएस यादव ने बताया कि अस्पताल में 274 लोगों ने आरटीपीसीआर कराया था, जिसमें 45 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इसमें 18 लोग ऋषिकेश शहर से हैं। 40 संक्रमितो को कोविड दवा किट उपलब्ध करा दी गई है। सभी को होमआइसोलेशन किया गया है।

संयुक्त मजिस्ट्रेट समेत 24 कोरोना पॉजिटिव
नैनीताल शहर में लगातार कोरोना के केसों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। मंगलवार को संयुक्त मजिस्ट्रेट के साथ 24 लोगों कोरोना पॉजिटिव आए हैं। बीडी पांडे से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को एसडीएम संयुक्त मजिस्ट्रेट को सर्दी जुकाम बुखार की समस्या थी जिन्होंने बीडी पांडे में अपना आरटीपीसीआर टेस्ट कराया,जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव निकले। डॉक्टरों ने सभी लोगों को होम क्वारंटाइन कर दिया है।अस्पताल के सीएमएस डॉ केएस धामी ने बताया कि संयुक्त मजिस्ट्रेट और अन्य लोगों के संपर्क में आए लोगों के भी आरटीपीसीआर टेस्ट किए गए है।

जिनकी रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। डॉक्टरों ने संयुक्त मजिस्ट्रेट जैन को होम क्वारंटाइन कर दिया है। वही प्रतीक जैन के पॉजिटिव आने पर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है। सभी अधिकारी और कर्मचारी अपना कोरोना टेस्ट बीडी पांडे अस्पताल आ रहे हैं। डॉ. धामी ने कहा कि नगर में कोरोना के केसों में लगातार वृद्धि होती जा रही है। उन्होंने लोगों से अपील करी है, कि अगर किसी को सर्दी जुकाम व बुखार की शिकायत हो तो वह तत्काल बीडी पांडे में आकर अपना कोरोना टेस्ट जरूर कराएं। जिससे कोरोना टेस्ट का खतरा कम हो सके।

काशीपुर पॉलीटेक्निक के 21 छात्र कोरोना संक्रमित
मानपुर रोड स्थित राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थान के 21 छात्रों समेत 68 लोग कोरोना संक्रमित आए हैं। सभी संक्रमित छात्रों को संस्थान प्रशासन ने कॉलेज के ही ब्वॉयज हॉस्टल में आइसोलेट कर दिया है। संस्थान को 31 जनवरी तक के लिए बंद कर दिया गया है। राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थान के छात्रों ने बीती 16 जनवरी को एलडी भट्ट सरकारी अस्पताल में जाकर अपनी सैंपलिंग कराई थी। 18 जनवरी को आई रिपोर्ट में संस्थान की एक छात्रा समेत 21 छात्र कोरोना संक्रमित मिले हैं।

प्रधानाचार्य राजीव नारायण सक्सेना ने बताया कि बीते दिन तक सभी पॉलीटेक्निक में प्रथम वर्ष के छात्रों की बोर्ड की थ्योरी की परीक्षाएं चल रही थीं। जिस दौरान छात्रों ने अपनी सैपलिंग कराई थी, उस दिन भी परीक्षाएं थीं जिन्हें रोक पाना मुश्किल था। मंगलवार को संस्थान के 21 छात्रों के संक्रमित आने पर हॉस्टल को खाली करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। साथ ही जो छात्र संक्रमित आए हैं, उनको इसी हॉस्टल में आइसोलेट किया गया है। इन छात्रों को घर नहीं भेजा जाएगा।

पॉलीटेक्निक के प्रैक्टिकल स्थगित
प्रधानाचार्य ने बताया कि इसके अलावा प्रस्तावित प्रैक्टिकल को अग्रिम आदेशों तक स्थगित कर दिए गए हैं। संस्थान को 31 जनवरी तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। बताया कि संस्थान के शिक्षक कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन करते हैं, लेकिन, छात्र-छात्राएं नहीं करते हैं। इसलिए संस्थान बंद कर दिया गया है। बब्वॉयज हॉस्टल में लगभग 100 छात्र रहते हैं, जिनमें से 21 संक्रमित हुए हैं।

सभी छात्रों के स्वास्थ्य पर रखी जा रही नजर: डॉ.साहनी
कोरोना नोडल अधिकारी डॉ.अमरजीत साहनी ने बताया कि सभी संक्रमित छात्रों पर स्वास्थ विभाग की टीम नियमित नजर रखेगी और उनका स्वास्थ परीक्षण कराया जाएगा। इसके अलावा प्राइवेट लैब से जांच कराने पर 17 और सरकारी अस्पताल में जांच कराने पर 30 अन्य लोग भी संक्रमित कुल 68 लोग मंगलवार को संक्रमित आए हैं।

खटीमा में 29 लोग और निकले संक्रमित
खटीमा। खटीमा में कोरोना संक्रमित मिलने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को 29 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने सभी लोगों को होम आइसोलेट कर दिया है। नागरिक चिकित्सालय के कोरोना नोडल अधिकारी डॉ. वीपी सिंह ने बताया कि 16 जनवरी को क्षेत्र के विभिन्न इलाकों से 190 सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे गए थे। इसमें 29 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं, जिन्हें होम आइसोलेट कर दिया गया।

सितारगंज में मिले 24 कोरोना संक्रमित
सितारगंज। सितारगंज में मंगलवार को आरटीपीसीआर की आयी रिपोर्ट में 24 संक्रमित मिले हैं। सरकड़ा बॉर्डर पर लिये गये सैम्पलों में कोरोना पॉजिटिव सबसे अधिक मिल रहे हैं। इधर कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं करने पर पुलिस भी सक्रिय हो गयी है। मंगलवार को पुलिस की टीम ने मास्क नहीं पनने पर चालानी कार्रवाई शुरू कर दी है। पीएमएस डॉ. राजेश आर्य ने बताया कि टीकाकरण का कार्य तेजी से चल रहा है। सक्रमितों को आइसोलेट कर उनके पास तक कोविड ईलाज के लिए किट पहुंचाई जा रही है।

बागेश्वर में कोरोना के 84 नये मामले
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सुनीता टम्टा ने बताया कि जिले में मंगलवार को कोरोना के 84 नये मामले सामने आए हैं। अब आंकड़ा 275 पहुंच गया है। इसके अलावा कोरोना वायरस संक्रमण की जांच हेतु 898 सैंपल भेजे हैं। अब तक 162862 सैंपल भेजे जा चुकें हैं, जिनमें से अभी तक जनपद में कोरोना के 6558 पॉजिटिव केस आयें हैं, जिनमें से 6227 मरीज अबतक स्वस्थ हो चुके है । वर्तमान में जनपद में कुल 275 मरीजों में से तीन संक्रमित मरीज का ईलाज कोविड अस्पताल में चल रहा है, जबकि 272 मरीज घर में आईसोलशन में हैं।

अल्मोड़ा में कोरोना के 202 नए मामले सामने आए
नए साल के दूसरे पखवाड़ में भी कोरोना का कहर जारी है। हर दिन कोरोना नया रिकार्ड बना रहा है। अब मंगलवार को एक ही दिन में जिले में 202 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए। तेजी से बढ़ रहे कोरोना ग्राफ ने लोगों की भी मुश्किलें बढ़ा दी है। एक्टिव मरीजों की संख्या भी जिले में 600 के पार पहुंच चुकी है।मंगलवार को सबसे अधिक 100 मरीज हवालबाग ब्लॉक से शामिल है।

इसके अलावा 7 भिकियासैंण, 20 धौलादेवी, 14 द्वाराहाट, 38 सल्ट, 4 ताड़ीखेत, 9 रानीखेत, 7 ताकुला और तीन मामले देघाट से है। वहीं अब तक 12955 मरीज कोरोना चपेट में आ चुके है। जिसमें से 12095 मरीज ठीक होकर घर जा चुके है। जबकि 620 मरीजों को वर्तमान में उपचार चल रहा है। तेजी से बढ़ रहे कोरोना ग्राफ ने अब प्रशासन की भी मुश्किलें बढ़ा दी है। इधर बाजारों समेत सार्वजनिक स्थानों में लोग अब भी पूरी तरह कोरोना नियमों का पालन नहीं कर रहे है।


 

epaper