DA Image
8 जुलाई, 2020|8:45|IST

अगली स्टोरी

Corona: उत्तराखंड में मिले 23 कोरोना पॉजिटिव, 1066 हुए संक्रमित

राज्य में बुधवार को कोरोना के 23 नए मरीज मिले। इसके साथ ही कुल मरीजों की संख्या 1066 पहुंच गई है। बुधवार को सबसे अधिक नौ मरीज हरिद्वार में मिले। जबकि देहरादून में आठ, चमोली में चार और नैनीताल व पौड़ी जिले में एक-एक मरीज में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

राज्य के अस्पतालों से सात मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज भी हुए हैं। इसके साथ ही ठीक होने वाले कुल मरीजों की संख्या 249 हो गई है।  अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि बुधवार को पॉजिटिव मिले अधिकांश मरीज प्रवासी हैं।

उन्होंने बताया कि बुधवार को कुल 1052 सैंपल की रिपोर्ट लैब से मिली। जिसमें से 1029 नेगेटिव जबकि 23 पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में अभी तक कुल 34413 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।

जिसमें से 7004 सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है। उन्होंने बताया कि बुधवार को 1128 सैंपल जांच के लिए भेजे गए। सबसे अधिक 280 सैंपल टिहरी जिले से जांच के लिए भेजे गए हैं।

हरिद्वार से 196, देहरादून से 133 और पिथौरागढ़ से 150 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। उत्तरकाशी जिले से बुधवार को एक भी सैंपल जांच के लिए नहीं भेजा गया। 

 

लॉकडाउन में लौटी पहाड़ की जवानी, जून मध्य तक तीन लाख प्रवासियों की वापसी की संभावना 

 

कोरोना मरीज की मौत
मैक्स अस्पताल में भर्ती एक कोरोना पॉजिटिव मरीज की बुधवार को मौत हो गई। राज्य में अभी तक कोरोना पॉजिटिव आठ लोगों की मौत हो चुकी हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का कहना है मरीज की मौत का कारण रिफ्रेक्ट्ररी शॉक बताया है।

इधर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने भी पत्रकारों को बताया कि राज्य में अभी तक एक भी मरीज की मौत कोरोना की वजह से नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के इलाज की अच्छी व्यवस्था है और लोगों को अच्छा इलाज दिया जा रहा है।

इधर पौड़ी के क्वारंटाइन सेंटर में रह रही एक महिला की भी बुधवार को मौत हुई। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि महिला का सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। 

 

चार प्रतिशत हुई कोरोना संक्रमण दर 
राज्य में कोरोना संक्रमण दर में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। बुधवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में कोरोना मरीजों के पॉजिटिव आने की दर चार प्रतिशत से अधिक हो गई है।

प्रवासियों की वापसी से पहले यह दर एक प्रतिशत से भी कम थी। इधर कोरोना मरीजों के डबल होने की दर में सुधार हुआ है और यह चार दिन से बढ़कर सात दिन से ऊपर पहुंच गई है।

इसी तरह मरीजों के ठीक होने की दर में भी इजाफा हो रहा है। और यह 24 प्रतिशत से अधिक हो गई है। राज्य के अस्पतालों में अभी कुल 795 मरीजों का इलाज चल रहा है। 

 

राज्य में कोरोना संक्रमण और मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत से कम 
इधर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि राज्य में एक करोड़ से अधिक की आबादी पर महज एक हजार के करीब केस हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की कोरोना से लडाई की तैयारी पूरी है और मरीजों की संख्या बढ़ने को देखते हुए तैयारियां की गई हैं। उन्होंने बताया कि संस्थागत क्वारंटाइन के लिए 14 हजार बेड आरक्षित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर 24 प्रतिशत से अधिक हो गई है। जबकि मरीज दोगुना होने की दर छह दिन हो गई है। कोरोना संक्रमण दर राज्य में चार प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। राज्य में कुल 38 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। 

 

Covid-19 : उत्तराखंड में 85 नए कोरोना मरीज मिलने से 1043 हुए संक्रमित, 07 मरीजों ने अब तक तोड़ा दम

 

पहाड़ में भी तेजी से फैला संक्रमण 
राज्य के अधिकांश पर्वतीय जिले पहला मरीज मिलने के दो महीने बाद तक   ग्रीन जोन में थे। लेकिन 24 मई के बाद पर्वतीय जिलों में मरीजों के पॉजिटिव आने से तस्वीर बदल गई और सभी जिले ऑरेंज श्रेणी में आ गए। अब मैदान के साथ ही पहाड़ के जिलों में भी तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। जिससे सरकार की चुनौती बढ़ रही है। 

क्वारंटाइन सेंटरों की बदहाली पर सरकार को हाईकोर्ट की फटकार,सेंटरों की स्थिति सुधार कर करें रिपोर्ट पेश

 

 

 

 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:corona patients found in dehradun haridwar tehri pauri increased covid 19 toll to 1066 amid corona virus pandemic in uttarakhand