उत्तराखंड

COVID-19: उत्तराखंड में कोरोना का टूटता दम, 85 नए मरीज, तीन की मौत

हिन्दुस्तान टीम, देहरादून Published By: Himanshu Kumar Lall Last Modified: Wed, 27 Jan 2021 7:00 PM
offline

उत्तराखंड में बुधवार को कोरोना के 85 नए मरीज मिले जबकि तीन संक्रमितों की मौत हो गई। इसके साथ ही राज्य में कुल मरीजों की संख्या 95826 हो गई है। इसमें से 91419 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं जबकि 1439 लोगों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है।स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार बुधवार को राज्य के छह जिलों अल्मोड़ा, चमोली, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, टिहरी और उत्तरकाशी जिलों में एक भी संक्रमित नहीं मिला है। जबकि बागेश्वर और चम्पावत में एक एक व पिथौरागढ़ जिले में दो लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

इसके अलावा देहरादून में सर्वाधिक 44, नैनीताल में 20, हरिद्वार में 11 और यूएस नगर में छह लोगों में कोरोना वायरस पाया गया है। बुधवार को महंत इंद्रेश अस्पताल में भर्ती दो जबकि हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में भर्ती एक संक्रमित मरीज की मौत हो गई। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमण के बाद मरने वालों का आंकड़ा 1639 हो गया है।  विभिन्न अस्पतालों से इलाज के बाद 96 लोगों को डिस्चार्ज किया गया। राज्य भर से 9570 मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। नौ हजार की रिपोर्ट आई जबकि 11 हजार से अधिक सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है।

राज्य में संक्रमण की दर 4.57 प्रतिशत जबकि मरीजों के ठीक होने की दर 95.50 प्रतिशत हो गई है। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राज्य में महज 39 मरीज मिले थे। जबकि एक संक्रमित की मौत हो गई थी। मंगलवार को सात जिलों में एक भी मरीज नहीं मिला था जबकि तीन जिलों में महज एक एक ही मरीज मिला था। यह संख्या पिछले लम्बे समय में सबसे कम थी। मंगलवार को देहरादून में भी महज 27 मरीज मिले थे। 

राज्य में 144 स्वास्थ्य कर्मियों को लगे टीके 
बुधवार को राज्य में दो स्थानों पर स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया गया जिसमें 144 लोगों का टीकाकरण किया गया। इसके साथ ही राज्य में अभी तक कुल 14690 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण हो चुका है। सोमवार को राज्य में कोरोना टीकाकरण ने अच्छी खासी रफ्तार पकड़ ली थी और एक ही दिन में चार हजार से अधिक लोगों ने टीकाकरण कराया था। लेकिन बुधवार को महज दो स्थानों पर ही टीकाकरण होने से टीका लगाने वालों की संख्या कम रही। 

 

Read in App

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें