DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  Covid-19:राजधानी देहरादून में 256 केस के साथ प्रदेशभर में मिले 725 नए मरीज, 09 ने तोड़ा दम
उत्तराखंड

Covid-19:राजधानी देहरादून में 256 केस के साथ प्रदेशभर में मिले 725 नए मरीज, 09 ने तोड़ा दम

हिन्दुस्तान टीम, देहरादूनPublished By: Himanshu Kumar Lall
Fri, 11 Dec 2020 08:13 PM
Covid-19:राजधानी देहरादून में 256 केस के साथ प्रदेशभर में मिले 725 नए मरीज, 09 ने तोड़ा दम

कोरोना संक्रमण ने आज दूसरे दिन भी बड़ा हमला किया। शुक्रवार को प्रदेश भर में कोरोना के नए  725 नए मरीज मिले और नौ लोगों की मौत हो गई। बीते रोज कोरोना संक्रमण के 830 केस सामने आए थे और 12 लोगों को मौत हो गई थी।

इसके साथ ही राज्य में कुल मरीजों का आंकड़ा 82 हजार 211  पहुंच गया है। जबकि अभी तक 72 हजार 987 लोग पूरी तरह ठीक हो चुके हैं और 1341 संक्रमितों की मौत हो गई है।

गढ़वाल मंडल में देहरादून और कुमाऊं में नैनीताल जिले में सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। यहां देहरादून में 256 लोगों में कोरोना का संक्रमण पाया गया है। जबकि नैनीताल में 115 बीमार मिले हैं।

बीते रोज चंपावत में कोरोना संक्रमण के17 केस आए थे, लेकिन आज चंपावत में रिपेार्ट सुखद रही है। चंपावत में एक भी केस नहीं आया है। इतनी बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज सामने आने के बाद विभाग की चिंता भी बढ़ गई है।

कोरोना के नए केस: कुमायूं मंडल : 

जिले             केस
नैनीताल         115 
अल्मोड़ा         20
बागेश्वर          18
पिथौरागढ़      55 
यूएस नगर      30

गढ़वाल मंडल :
जिले             केस
देहरादून       256 
पौड़ी            79 
हरिद्वार         43
चमोली         57
रुद्रप्रयाग      18
उत्तरकाशी    21
टिहरी           13

कोरोना पर कांग्रेस ने सरकार पर उठाए सवाल
देहरादून।
कोरोना के केस बढ़ने पर कांग्रेस ने सरकार को कठघरे में किया है। शुक्रवार को कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने ने कहा कि सरकार कोरोना पर नियंत्रण नहीं कर पा रही है।

कोरेाना संक्रमण की दर लगातार बढ़ रही है। दून में कोरोना का ग्राफ बढ़ने के लिए धस्माना ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को भी ठहराया। कहा कि, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत पूरे शहर में खुदाई कर दी गई है।

निर्माण और मरम्मत कार्य तेजी स ने होने के कारण पूरा शहर वायु प्रदूषण की गिरफ्त में है। सरकार कोरेाना वैक्सीन का केवल ढिंढोरा ही पीट रही है। जबकि उसके पास अब तक कुछ नहीं है।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें