DA Image
19 सितम्बर, 2020|2:14|IST

अगली स्टोरी

कोरोना विस्फोट: 451 मरीज मिलने से प्रदेशभर में हुए 5300 संक्रमित, दो ने तोड़ा दम

pgi  corona  positive

राज्य में बुधवार को कोरोना के रिकॉर्ड 451 नए मरीज मिले। इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। एक ही दिन में बड़ी संख्या में मरीज मिलने से अब स्वास्थ्य विभाग के साथ ही सरकार की भी टेंशन बढ़ गई है।  

बुधवार को सबसे अधिक कोरोना के मरीज हरिद्वार जिले में मिले हैं। हरिद्वार में 204 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके अलावा यूएस नगर में 98, नैनीताल में 73, देहरादून में 43, टिहरी में 11, उत्तरकाशी में 9, पिथौरागढ़ में 5, पौडी में 4 और अल्मोड़ा जिले में भी 4 मरीजो में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

राज्य में कुल मरीजों का आंकड़ा भी 5 हजार को पार करते हुए 5300 पहुंच गया है। जबकि एक्टिव मरीजों की संख्या 1856 हो गई है। बुधवार को दो कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत भी हुई जिससे कुल मृतकों की संख्या 57 पहुंच गई है। 

बुधवार को राज्य की सरकारी एवं प्राइवेट लैब से लैब से चार हजार के करीब सैम्पल की रिपोर्ट आई जिसमे से 3740 नेगेटिव पाई गई हैं।

राज्यभर से 2966 सैम्पल जांच के लिए भेजे गए। जिसमे से 529 यूएस नगर जबकि 379 हरिद्वार से भेजे गए। जांच के लिए भेजे गए 9579 सैम्पल की रिपोर्ट अभी लैब से आना बाकी है।

राज्य में कोरोना मरीजो के दोगुना होने की दर 18 दिन रह गई है जबकि रिकवरी रेट घटकर 65 प्रतिशत रह गया है। राज्य में कोरोना संक्रमण दर बढ़कर साढ़े चार प्रतिशत के पार पहुंच गया है। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पूरे राज्य में 132 कंटेन्मेंट जोन बनाये गए हैं। 

 

संक्रमण के मामले में दूसरे नम्बर पर पहुंचा हरिद्वार 
पिछले तीन दिनों से हरिद्वार में लगातार बड़ी संख्या में मरीजों के मिलने से हरिद्वार में कोरोना का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ गया है। हरिद्वार जिला अब कोरोना संक्रमण के मामले में राज्य में दूसरे स्थान पर पहुंच गया है।

हरिद्वार में कुल 981 मरीज हो गए हैं। जबकि देहरादून जिले में सर्वाधिक 1221 मरीज हैं। यूएस नगर 861 मरीजों के साथ तीसरे स्थान पर जबकि 778 मरीजों के साथ नैनीताल चौथे नम्बर पर है।

एक्टिव मरीजों के मामले में हरिद्वार 634 पहले नम्बर पर पहुंच गया है। जबकि 430 मरीजों के साथ यूएस नगर दूसरे स्थान पर है। देहरादून जिले के अस्पतालों में 339 मरीज भर्ती हैं। 

 

अभी तक ठीक हो चुके 3349 मरीज 
राज्य के अस्पतालों से बुधवार को कुल 52 मरीज ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किए गए। इससे अभी तक ठीक होने वाले कुल मरीजों की संख्या 3349 हो गई है।

बुधवार को बड़ी संख्या में मरीज मिलने से रिकवरी रेट में भी गिरावट आ गई है। एक 13 दिन पहले राज्य देश के सबसे अच्छे रिकवरी रेट वाले राज्यों में था। 

जबकि अब रिकवरी रेट में 16 प्रतिशत की गिरावट आ गई है। 13 दिन पहले राज्य के अस्पतालों में महज 500 के करीब मरीज भर्ती थे। जो अब बढ़कर दो हजार के करीब हो गए हैं। 

 

जांच में लगातार पिछड़ रहा राज्य 
राज्य में कोरोना जांच की संख्या बढ़ने के बावजूद हिमालयी राज्यों में उत्तराखंड की स्थिति में कोई सुधार नहीं आ पाया है। जांच के मामले में उत्तराखंड हिमालयी राज्यों में 10 वें स्थान पर है।

हिमालयी राज्यों में अकेला मेघालय ऐसा राज्य है जहां प्रति लाख पर उत्तराखंड से कम जांच हो रही है। जबकि अन्य राज्य उत्तराखंड से आगे हैं।

टेस्टिंग के मामले में लद्याख सबसे ऊपर है। हालांकि सचिव स्वास्थ्य अमित नेगी ने कहा कि राज्य में जांच आईसीएमआर की गाइडलाइन के अनुसार की जा रही है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में जांच की स्पीड बढ़ाई गई है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:corona cases continuously increasing as covid 19 cases rise amid corona virus pandemic in uttarakhand