city police arrests woman in committee fraud case in dehradun - 02 करोड़ की ‘किट्टी ठगी’ में महिला गिरफ्तार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

02 करोड़ की ‘किट्टी ठगी’ में महिला गिरफ्तार

किट्टी के दो करोड़ रुपये से अधिक का गबन करने के मामले में फरार चल रही किट्टी संचालिका को नगर कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। गुरुवार को उसे कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है। नगर कोतवाली में बीती 6 मई को शालिनी वर्मा पत्नी अतुल वर्मा निवासी पलटन बाजार डिस्पेंसरी रोड ने तहरीर देकर किट्टी के जरिए ठगी की शिकायत की थी। पुलिस को पीड़िता ने बताया कि वह बुटीक चलाती हैं। कुछ समय पूर्व उनकी पहचान पूनम कौर पत्नी स्व. पुष्पेंद्र सिंह उर्फ साहिल उर्फ बंटी निवासी रक्षा बिहार, रायपुर रोड, हाल निवास विजय पार्क रायपुर से हुई। पूनम ने अपनी बातों में फंसाकर किट्टी में रुपये डालने के लिए उसको मना लिया। किट्टी जमा करने के बाद शुरुआत में पूनम ने उसको अच्छा रिटर्न दिया। जिसे देखकर अधिक रुपया जमा करने लगी।

मगर कुछ समय बाद किट्टी पूरी होने पर रुपये मांगने पर वो टालमटोल करने लगी। प्रॉपर्टी में घाटे की बात करके उसने कुछ रुपया ब्याज पर दिलवाने के लिए कहा। इस पर उन्होंने पूनम को 17 लाख  रुपया दिलवाये। कुछ समय तक उसने ब्याज दिया, लेकिन इसके बाद उसने रुपये देने से मना कर दिया। एसएसआई अशोक राठौड़ ने बताया कि 8 जून को आरोपी को दिल्ली में देखे जाने की सूचना मिली थी। इस पर एक टीम दिल्ली रवाना की गई, लेकिन टीम को सफलता नहीं मिली। गुरुवार को पूनम के कचहरी परिसर में दिखने की सूचना पर टीम ने द्रोण होटल चौक और कचहरी तिराहे के बीच से गिरफ्तार कर लिया। टीम में एसएसआई अशोक राठौर, एसआई दीपक धारीवाल, कमलेश लता, अरशद, वीरपाल, देवेंद्र, बबलू शामिल रहे। 

 

400 से 500 लोगों के लौटाने हैं रुपये
पूनम कौर ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसकी शादी 2008 में साहिल उर्फ पुष्पेंद्र से हुई थी। पति प्रॉपर्टी डीलिंग था और वो परिवार से अलग था। 4 साल पहले वो किट्टी का काम करने लगी। करीब 400-500 लोग किट्टी से जुड़े। दिसंबर 2018 तक सब कुछ ठीक रहा लेकिन प्रॉपर्टी में लगाया रुपया वापस नहीं मिला। इसपर वो किट्टी की देनदारी नहीं दे पाए। लोग रुपये मांगने लगे तो बचने के लिए दिल्ली चले गए। शराबी पति की तबीयत खराब होने पर दिल्ली राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया। जहां 8 जून को उसकी मृत्यु हो गयी थी। गुरुवार को वो केस के संबंध में वकील से मिलने आयी थी, तभी पकड़ी गई। 

 

किट्टी के रुपये के गबन के मामले में फरार चल रही पूनम कौर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जनता से अपील है कि अपनी मेहनत की कमाई को लालच में किट्टी या कमेटी में न लगाएं। इसमें आपके पैसा सुरिक्षत नहीं है, उसका गबन हो सकता है।  
श्वेता चौबे, एसपी सिटी

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:city police arrests woman in committee fraud case in dehradun