candidates can know their ranking though Uttarakhand Subordinate Services Selection Commission website - पारदर्शिता : अब अभ्यर्थियों को चल पाएगा अपनी-अपनी रैंकिंग का पता DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पारदर्शिता : अब अभ्यर्थियों को चल पाएगा अपनी-अपनी रैंकिंग का पता

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में भर्ती परीक्षाओं में पारदर्शिता अपनाने के लिए बड़ा कदम उठाया गया है। अब अभ्यर्थियों को आयोग की वेबसाइट पर अपनी रैंकिंग के बारे में भी पता चल सकेगा। सचिव संतोष बडोनी ने बताया कि इससे चयन प्रक्रिया साफ सुथरी रहेगी और कोई भी अभ्यर्थी असमंजस में नहीं रहेगा। अभी तक आयोग सिर्फ चयनित अभ्यर्थियों की मेरिट ही जारी करता था। अब विभिन्न परीक्षाओं में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के अनुक्रमांक, नाम और प्राप्तांक अवरोही क्रम में परीक्षा परिणाम जारी होते ही उपलब्ध रहेंगे। सामान्य श्रेणी के ऐसे अभ्यर्थी, जिनके 45 फीसदी, जबकि अनुसूचित जाति और जनजाति श्रेणी में 35 फीसदी तक अंक लाने वाले अभ्यर्थियों की रैंकिंग वेबसाइट पर रहेगी। इस व्यवस्था से लिखित परीक्षा परिणाम जारी होने के बाद अभ्यर्थी यह जान सकेंगे कि उनका क्रम जारी परिणाम में अंतिम कट ऑफ के कितने अभ्यर्थियों के बाद में है। इससे अभ्यर्थियों को यह भी स्पष्ट होगा कि चयन प्रक्रिया में यदि कुछ अभ्यर्थी नहीं पहुंच पाते या किसी वजह से योग्य नहीं पाए जाते हैं तो उन्हें चयन का अवसर मिलेगा या नहीं।

ये बदलाव हो चुके हैं पहले
अधीनस्थ सेवा चयन आयोग भर्ती परीक्षा में पारदर्शिता अपनाने के लिए पहले भी कई बदलाव कर चुका है। मसलन, ओएमआर शीट तीन प्रतियों में देना। इनमें से एक प्रति परीक्षा के दिन ही कोषागार में डबल लॉक में रख दी जाती है, जबकि एक आयोग के पास और तीसरी अभ्यर्थियों की दी जाती है। आयोग भर्ती परीक्षा के दिन ही उत्तर कुंजी भी वेबसाइट पर अपलोड कर देता है, ताकि अभ्यर्थी अपने अंकों का आकलन कर सकें। 


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:candidates can know their ranking though Uttarakhand Subordinate Services Selection Commission website