ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडबदरीनाथ-मंगलौर उपचुनाव के लिए BJP में छह दावेदार, कांग्रेस का प्रत्याशियों पर क्या प्लान?

बदरीनाथ-मंगलौर उपचुनाव के लिए BJP में छह दावेदार, कांग्रेस का प्रत्याशियों पर क्या प्लान?

राज्य स्तरीय बोर्ड में चर्चा के बाद 14 जून तक इन नामों को केंद्रीय पार्लियामेंट्री बोर्ड को भेज दिया जाएगा।भाजपा ने दोनों सीटों पर पहले ही पर्यवेक्षक तैनात कर दिए थे। बीजेपी कांग्रेस तैयार है।

बदरीनाथ-मंगलौर उपचुनाव के लिए BJP में छह दावेदार, कांग्रेस का प्रत्याशियों पर क्या प्लान?
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानTue, 11 Jun 2024 12:51 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव होने के बाद अब विधानसभा उपचुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है। उत्तराखंड में दो सीटों बदरीनाथ और मंगलौर सीट पर उपचुनाव होना है। तारीखों की घोषणा होते ही दावेदार सक्रिय हो गए हैं। इधर, दलों की ओर से जीत को लेकर दावे और प्रतिदावे भी शुरू हो गए हैं। भाजपा और कांग्रेस चार दिन में प्रत्याशियों का पैनल हाईकमान को भेज देंगे। बीजेपी में दोनों सीटों पर छह-छह नामों पर चर्चा है। 

भाजपा-कांग्रेस चार दिन में भेजेंगे हाईकमान को पैनल
बदरीनाथ और मंगलौर सीट पर उपचुनाव की तारीख का ऐलान होते ही भाजपा ने प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके तहत मंगलौर (हरिद्वार) और बदरीनाथ (चमोली) से प्रत्याशियों के नाम का पैनल मंगाया गया है।

राज्य स्तरीय बोर्ड में चर्चा के बाद 14 जून तक इन नामों को केंद्रीय पार्लियामेंट्री बोर्ड को भेज दिया जाएगा।भाजपा ने दोनों सीटों पर पहले ही पर्यवेक्षक तैनात कर दिए थे। उप चुनाव का ऐलान होने के बाद पार्टी ने प्रत्याशियों के चयन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने बताया कि दोनों ही सीटों पर प्रत्याशियों के नाम का पैनल तैयार किया जाएगा। पार्टी के स्थानीय नेताओं से रायशुमारी के बाद राज्य स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी और उसके बाद नाम केंद्रीय पार्लियामेंट्री बोर्ड को भेज दिए जाएंगे। प्रत्याशियों पर अंतिम फैसला पार्टी का पार्लियामेंट्री बोर्ड ही करेगा।

बदरीनाथ और मंगलौर में छह- छह नामों की चर्चा
भाजपा में बदरीनाथ सीट पर वैसे तो पूर्व विधायक राजेंद्र भंडारी को ही पार्टी का प्रत्याशी माना जा रहा है, लेकिन इसके साथ ही जिला सहकारी बैंक के पूर्व अध्यक्ष गजेंद्र सिंह रावत, जिला पंचायत सदस्य योगेंद्र सहवाग, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रघुवीर बिष्ट, बीकेटीसी के उपाध्यक्ष किशोर पंवार और नगर पालिका जोशीमठ के पूर्व अध्यक्ष ऋषि प्रसाद सती के नाम प्रमुख हैं।

जबकि मंगलौर सीट को लेकर भाजपा में जिन नामों की चर्चा चल रही है उनमें हरियाणा के पूर्व मंत्री करतार सिंह भडाना, डॉ. मधु सिंह, झबरेड़ा के पूर्व विधायक देशराज कर्णवाल, प्रभात चौधरी, जिला पंचायत सदस्य अनीस अहमद गौड, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के उपाध्यक्ष जमीर हसन अंसारी आदि प्रमुख हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी चयन में जुटी, माहरा गोपेश्वर पहुंचे
मंगलौर और बदरीनाथ विधानसभा उपचुनाव की घोषणा होते ही कांग्रेस भी मैदान में जुट गई है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने सोमवार को ही गोपेश्वर पहुंच कर चुनावी कमान संभाल ली। उन्होंने बताया कि चार दिन में प्रत्याशी तय किया जाएगा। बदरीनाथ सीट पर कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गोदियाल समेत आठ दावेदार हैं।

दूसरी ओर मंगलौर में कांग्रेस से पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन का टिकट लगभग तय माना जा रहा है। कांग्रेस में बदरीनाथ सीट में सबसे अधिक दावेदारों की भीड़ है। जबकि मंगलौर सीट पर पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन के कारण यहां कोई अन्य दावेदार फिलहाल सामने नहीं आया है। इस सीट पर कांग्रेस पूर्व गोदियाल के साथ ही केदारनाथ के पूर्व विधायक मनोज रावत के नाम की चर्चा है।

इसके अलावा, जिला पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष लखपत बुटोला, कर्णप्रयाग ब्लॉक पूर्व प्रमुख कमल रावत, पूर्व जिलाध्यक्ष वीरेंद्र थोकदार, जोशीमठ नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष माध्वी सती के साथ ही नरेंद्र नंदन नौटियाल भी दावेदारों में से हैं। उधर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जोशीमठ आपदा प्रभावितों के हितों का संरक्षण करने में राज्य सभा सांसद महेंद्र भट्ट और पूर्व विधायक राजेंद्र भंडारी गंभीर नहीं दिखे।