ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडभाई दूज पर रोडवेज बसों के लिए बहनें नहीं होंगी परेशान, UP, दिल्ली-NCR, हरियाणा समेत इन रूटों पर मिलेगी राहत

भाई दूज पर रोडवेज बसों के लिए बहनें नहीं होंगी परेशान, UP, दिल्ली-NCR, हरियाणा समेत इन रूटों पर मिलेगी राहत

ऐसे में एक यूपी, दिल्ली समेत हरियाणा से एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए बस यात्रियों को परेशान नहीं होना पड़ेगा। रोडवेज ने ऋषिकेश से देहरादून के बीच छह अतिरिक्त बसों का संचालन तय किया है।

भाई दूज पर रोडवेज बसों के लिए बहनें नहीं होंगी परेशान, UP, दिल्ली-NCR, हरियाणा समेत इन रूटों पर मिलेगी राहत
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, हिन्दुस्तानTue, 14 Nov 2023 08:21 PM
ऐप पर पढ़ें

भाई-बहन के प्रेम के प्रतीक भाईदूज पर्व पर रोडवेज की बसों सफर के लिए मारामारी नहीं होगी। यूपी, दिल्ली-एनसीआर, सहित पड़ोसी राज्यों समेत प्रदेश के अंदर चलने वाली बसों की संख्या को बढ़ाने की पूरी तैयारी हो गई है। यूपी के बरेली, मुरादाबाद, सहारनपुर, गाजियाबाद समेत दिल्ली-एनसीआर रूटों पर अतिरिक्त बसें चलाने का प्लान है।

ऐसे में एक यूपी, दिल्ली समेत हरियाणा से एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए बस यात्रियों को परेशान नहीं होना पड़ेगा। रोडवेज ने ऋषिकेश से देहरादून के बीच छह अतिरिक्त बसों का संचालन तय किया है। इनमें यूपी, पंजाब की बसों के साथ निगम की अन्य रूट की दो सेवा भी यात्रियों को देहरादून ले जाएगी।

रोडवेज के ऋषिकेश डिपो से देहरादून-ऋषिकेश के बीच रोजाना 10 सेवाएं नियमित चलती हैं। लेकिन त्योहार के मौके पर इस रूट पर यात्रियों की बहुत अधिक बढ़ जाती है, जिससे बसों में सीट के लिए मारामारी की स्थिति पैदा हो जाती है। कई बार यात्रियों को खड़े-खड़े सफर करने को मजबूर होना पड़ता है।

भैयादूज पर भाई-बहनों को एक से दूसरे स्थान तक जाने में कोई दिक्कत न हो, इसके लिए रोडवेज की मुरादाबाद और रामनगर सेवा की बस को दिनभर देहरादून-ऋषिकेश बीच चलाया जाएगा। जबकि, अमृतसर, रूपहैड़िया, कानपुर और लखनऊ से यहां पहुंचने वाली बसें भी अनिवार्य रूप से एक चक्कर दून का लगाएंगी। ऐसा नहीं करने पर उनका डिपो में कैश जमा नहीं किया जाएगा।

दिल्ली रूट पर बढ़ेंगी बसें: दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले लोग त्योहार मनाकर वापस लौटेंगे। पर्वतीय क्षेत्रों से बड़ी संख्या में लोग दिल्ली रूट के लिए रोडवेज की बसों से जाते हैं। ऋषिकेश डिपो में यात्रियों का दबाव बढ़ जाता है। दो अतिरिक्त बसें दिल्ली रूट पर लगाई जाएंगी। इस मार्ग पर पहले से 40 बसें संचालित की जा रही हैं।

ऋषिकेश डिपो के स्टेशन अधीक्षक,अनुराग पुरोहित ने कहा कि हर यात्री को बस और उसमें बैठने के लिए सीट मिले। किसी रूट पर बसों की कमी न हो, इसके लिए डिपो ने त्योहार के मद्देनजर विशेष इंतजाम किए हैं। देहरादून-ऋषिकेश रूट पर बसों की संख्या को बढ़ाया गया है। दिल्ली रूट पर भी शनिवार से बसों की संख्या बढ़ जाएगी। 

यूपी, दिल्ली-एनसीआर समेत इन रूटों पर अतिरिक्त बसें 
दिल्ली-देहरादून, लखनऊ-देहरादून, हल्द्वानी-लखनऊ, देहरादून सहरानुपर, देहरादून-मुरादाबाद, बरेली-काशीपुर आदि रूटों पर अतिरिक्त बसें संचालित होंगी। इसके अलावा, विभिन्न शहरों से सहारनपुर, बरेली, कानपुर, दिल्ली, गाजियाबाद, मुज्जफरनगर, गुरुग्राम, मुरादाबाद आदि रूटों पर भी अधिक बसों का संचालन किया जाएगा। 

हल्द्वानी-देहरादून, बरेली, लखनऊ  जाने को बसों में मारामारी
दिल्ली, लखनऊ, बरेली, गुरुग्राम आदि महानगरों से दिपावली मनाने घरों में आए लोग अब लौटने लगे हैं। इस वजह से सोमवार को सुबह से ही बस स्टेशनों में यात्रियों की भीड़ रही। सबसे अधिक हल्द्वानी और दिल्ली जाने वालों की रोडवेज और केमू बसों में भीड़ रही। वाहनों की किल्लत होने से यात्रियों की फजीहत हुई।

कई लोगों को टैक्सी अन्य वाहनों से जाना पड़ा। दीपावली पर बड़ी संख्या में महानगरों में रहने वाले लोग अपने घरों में दीपावली मनाने के लिये आये थे। इधर, अब दिपावली के बाद कामकाजी लोगों के लौटने का सिलसिला शुरू हो गया है। सोमवार को भी केएमओयू समेत रोडवेज और टैक्सी स्टेंड पर महानगरों को लौटने वाले लोगों की भीड़ देखने को मिली।

दिपावली मनाने के लिए चालक परिचालक, टैक्सी चालक भी अपने घर गए हैं। ऐसे में दिवाली के दूसरे दिन यानि सोमवार को रूटों पर वाहनों की किल्लत बनी रही। इधर, दीपावली पर भी अल्मोड़ा रोडवेज से देहरादून, लमगड़ा-दिल्ली, बेतालघाट-दिल्ली, टनकपुर आदि रूटों पर बसों का संचालन बाधित रहा।

इससे इस मार्ग पर यात्रा करने वाले यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। रोडवेज के सहायक महाप्रबंधक राजेंद्र कुमार ने बताया कि चालकों की कमी से संचालन प्रभावित हो रहा है। जल्द बसों के संचालन को व्यवस्था बनाई जाएगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें