DA Image
1 अगस्त, 2020|1:42|IST

अगली स्टोरी

रिश्वतखोरी में बैंक के सीनियर मैनेजर को मिली 07 साल की सजा, 40 हजार की मांगी थी घूस 

jail

मुद्रा लोन जारी करने के लिए चालीस हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ दबोचे गए पीएनबी के सीनियर मैनेजर को शुक्रवार को सीबीआई की विशेष अदालत ने दोषी करार देते हुए सजा सुनाई। न्यायालय ने दोषी को सात वर्ष कठोर कारावास की सुजा सुनाई है। चालीस हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया गया है। 

सीबीआई के शासकीय अधिवक्ता सतीश ने बताया कि दून के भुड्डी गांव निवासी सीमेंट कारोबारी कुणाल सिंह ने वर्ष 2018 में फूलचंद नारी शिल्प इंटर कालेज के पास स्थित पीएनबी की शाखा से करीब सवा पांच लाख रुपये के मुद्रा लोन के लिए आवेदन किया था।

शाखा के सीनियर प्रबंधक राजकुमार निवासी आर्यनगर ने दिसंबर 2018 में दुकान का निरीक्षण किया। उन्होंने बिना तारीख के एक आवेदन पत्र लिया। आरोप था कि राजकुमार ने पांच लाख का मुद्रा लोन जारी करने के लिए चालीस हजार रुपये रिश्वत की मांग की। शिकायतकर्ता ने रकम उपलब्ध नहीं होने की बात कही।

इस पर प्रबंधक ने कहा कि लोन जारी होने के बाद वह रिश्वत की रकम चुकाए। 31 जनवरी 2019 को राजकुमार ने कुणाल की फर्म तरुण ट्रेडर्स में आरटीजीएस के जरिए लोन की रकम भेजी। फिर बैंक के फेवर में इंट्री करते रकम वापस कर ली और पीड़ित को बैंक बुलाया।

वह बैंक पहुंचे तो वहां राजकुमार ने कुणाल को अपनी बाइक पर बैठाया और चालीस हजार रिश्वत मांगते हुए 5.30 लाख रुपये का ड्राफ्ट दिया। पीड़ित ने इसकी शिकायत सीबीआई में की और आरोपी की रिश्वत मांगने की रिकार्डिंग भी सीबीआई को दी। सीबीआई ने बीते वर्ष दो फरवरी को आरोपी को शाखा के पास चालीस हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोच लिया।

गिरफ्तारी के बाद आरोपी का केस सीबीआई की विशेष आदालत में चला। अदालत में अभियोजन पक्ष ने 16 गवाह पेश किए। सीबीआई की विशेष न्यायाधीश सुजाता की अदालत ने शुक्रवार को राजकुमार को दोषी करार देते हुए सात वर्ष की सजा सुनाई। लॉक डाउन की वजह से लंबे समय तक न्यायायिक प्रक्रिया बाधित रहने के बावजूद आरोपी को महज 17 महीने में ट्रायल पूरा कर सजा सुना दी गई। गिरफ्तारी के बाद आरोपी का राजपुर रोड पर एक मकान बन रहा था। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:bank senior manager awarded seven years imprisonment after caught red handed for accepting bride in dehradun