ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडअवैध संबंध छुपाने को बहू ने की सास की हत्या, नशीली गोलियां खिलाकर दुपट्टे से घोंटा गला

अवैध संबंध छुपाने को बहू ने की सास की हत्या, नशीली गोलियां खिलाकर दुपट्टे से घोंटा गला

मृतका के पुत्र सोनू कुमार ने पत्नी लक्ष्मी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला की दुपट्टे से गलाघोंट कर हत्या की पुष्टि हुई थी। बहू और प्रेमी को गिरफ्तार किया है।

अवैध संबंध छुपाने को बहू ने की सास की हत्या, नशीली गोलियां खिलाकर दुपट्टे से घोंटा गला
Himanshu Kumar Lallरुड़की, हिन्दुस्तानWed, 28 Feb 2024 07:21 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के इस शहर में एक बहू ने अपनी सास की हत्या दुपट्टे से गला घोंटकर की थी। बहू ने अवैध संबंध को छुपाने के लिए सास को मौत के घाट उतार दिया। मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने आरोपी बहू और उसके कथित प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

रुड़की कोतवाली में एसएसपी प्रमेन्द्र सिंह डोबाल ने प्रेस वार्ता कर मामले का खुलासा किया। एसएसपी ने बताया कि 15 फरवरी को अकबरपुर फाजिलपुर थाना झबरेड़ा निवासी सावित्री का घर से पुलिस ने शव बरामद किया था। गले पर दुपट्टे का निशान मिला था।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। मृतका के पुत्र सोनू कुमार ने पत्नी लक्ष्मी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला की दुपट्टे से गलाघोंट कर हत्या की पुष्टि हुई थी। पुलिस ने आरोपी बहू को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी।

पूछताछ में बहू ने बताया था कि सास को प्रेमी जॉनी पुत्र बिजेन्दर निवासी अकबरपुर फाजिलपुर थाना झबरेड़ा के बारे में पता चल गया था। सास ने प्रेम संबंधों की बात जग जाहिर करने की बात कही थी। जिसके बाद प्रेमी की मदद से सास की हत्या करने की प्लानिंग की थी।

खाने में दी नशीली दवा
एसएसपी ने बताया कि 14 फरवरी को लक्ष्मी ने अपनी सास सावित्री को खाने में नशीली दवा मिलाकर दी थी। यह दवा कथित प्रेमी ने उपलब्ध कराई थी। रात शादी समारोह में जाने की बात कह कर लक्ष्मी घर से निकली।

सास घर से कुछ दूर बने घेर में सो रही थी। रात को आरोपी बहू ने सास की बेहोशी की हालत में दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या कर दी। पूछताछ के बाद पुलिस ने महिला के कथित प्रेमी जॉनी को भी गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस टीम में एसपी देहात एसके सिंह, सीओ मंगलौर विवेक कुमार, एसओ झबरेड़ा अंकुर शर्मा, इकबालपुर चौकी प्रभारी संजय पूनिया, महिला उप निरीक्षक अंशु चौधरी, हेड कांस्टेबल रामवीर सिंह, रणवीर सिंह, देवेश और सीआईयू रुड़की प्रभारी रविंद्र शाह, हेड कांस्टेबल अशोक कुमार और राहुल नेगी शामिल रहे।

झगड़े से परेशान सास रह रही थी दूर
लक्ष्मी का विवाह पांच साल पहले सोनू से हुआ था। दंपति में मनमुटाव होने लगा। संतान नहीं होने पर लक्ष्मी उपचार करा रही थी। इस बीच जनसेवा केंद्र के कर्मचारी जॉनी से लक्ष्मी का संपर्क हुआ। दोनों के बीच फोन पर लंबी बातें होने लगी।

दोनों के चोरी छिपे मिलने की जानकारी सास सावित्री को लगी तो उसने विरोध किया। प्रेम प्रसंग की बात पति सोनू के कानों तक भी पहुंच गई, इससे घर में झगड़ा होने लगे। इससे परेशान सावित्री घेर में जाकर रहने लगी।

फोन ने खोले सारे राज
सोनू ने अपनी मां सावित्री की हत्या का शक पत्नी लक्ष्मी पर जताया। पुलिस ने लक्ष्मी से पूछताछ की तो वह पुलिस को उलझाती रही। उसके बयानों में विरोधाभास होने पर पुलिस ने लक्ष्मी के फोन के कॉल रिकॉर्ड को खंगालना शुरू कर दिया।

लक्ष्मी के फोन में जॉनी का नंबर मिला। दोनों के कॉल रिकॉर्ड खंगाले तो पुलिस को उन दोनों के बीच लगातार संपर्क और बातचीत के रिकॉर्ड मिले। जिसके बाद हत्याकांड का खुलासा हो गया।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें