ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडबदरीनाथ-केदारनाथ सहित चार धाम पर जाने से पहले जरूर करें यह काम, नहीं तो सड़कों पर कटेगी रात; होटलों में हो रही एडवांस बुकिंग

बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चार धाम पर जाने से पहले जरूर करें यह काम, नहीं तो सड़कों पर कटेगी रात; होटलों में हो रही एडवांस बुकिंग

बदरीनाथ, केदारनाथ सहित चार धाम यात्रा पर यूपी, एमपी, राजस्थान सहित देश के किसी भी राज्य से अगर आप उत्तराखंड आ रहे हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत जरूरी है। होटलों में एडवांस बुकिंग हो रही है।

बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चार धाम पर जाने से पहले जरूर करें यह काम, नहीं तो सड़कों पर कटेगी रात; होटलों में हो रही एडवांस बुकिंग
char dham
Himanshu Kumar Lallहरिद्वार, संवाददाताWed, 15 Mar 2023 01:43 PM
ऐप पर पढ़ें

बदरीनाथ, केदारनाथ सहित चार धाम यात्रा पर जाने से पहले अगर श्रद्धालुओं ने यह काम नहीं किय तो उनकी सड़कों पर रातें गुजर सकती है। यात्रा पर जाने से पहले तीर्थ यात्रियों को हरहाल में यह काम करना ही होगा नहीं तो उनको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

चार धाम यात्रा शुरू होने से पहले ही यात्रा रूट पर होटलों की बुकिंग शुरू हो गई है। होटलों में करीब-करीब 25 से  40 फीसदी तक एडवांस बुकिंग हो चुकी है। हरिद्वार, ऋषिकेश, चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तराकाशी आदि शहरों में लोग होटलों में एडवांस बुकिंग करा रहे हैं। ऐसे में यात्रा पर जा रहे तीर्थ यात्रियों को होटलों में कमरों की कमी का सामना करना पड़ सकता है।

ऐेसे में चार धाम यात्रा पर जा रहे श्रद्धालुओं को सलाह है यात्रा पर जाने से पहले होटल बुकिंग करा लें। हरिद्वार के होटलों में चारधाम यात्रा को लेकर एडवांस बुकिंग शुरू हो गई है। होटलों में करीब 25 फीसदी एडवांस बुकिंग होने से कारोबारियों के चेहरे खिले हुए हैं। चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु मोबाइल से रोजाना होटलों में बुकिंग के लिए पूछताछ कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चारधाम यात्रा रूट पर गूगल मैप भी करेगा मदद, श्रद्धालुओं को मिलेगी यह लेटस्ट जानकारी 

चारधाम यात्रा की शुरुआत होने से पहले बड़ी संख्या में यात्री धर्मनगरी पहुंचते हैं। इसके लिए महीनों पहले यात्री होटल और वाहनों की एडवांस बुकिंग करना शुरू कर देते हैं। इस वर्ष चारधाम यात्रा के प्रति यात्रियों का रुझान देख कर होटल कारोबारी खुश हैं। चारधाम यात्रा के लिए 50 से 70 यात्री रोजाना होटलों में कमरों को लेकर पूछताछ कर रहे हैं।

बड़ी संख्या में यात्री होटलों में एडवांस बुकिंग कर रहे हैं। कुछ दिन रुकने के बाद यात्री चारधाम के लिए रवाना होते हैं। चारधाम यात्रा पूरी करने के बाद यात्री हरिद्वार वापस आते हैं। जिसके बाद अपने गंतव्यों को रवाना होते हैं। होटल कारोबारियों को इस वर्ष रिकॉर्ड तोड़ भीड़ चारधाम यात्रा के लिए पहुंचने की उम्मीद जता रहे हैं।

होटलों में एडवांस बुकिंग हो रही है। इन्क्वारी भी बड़ी संख्या में यात्री कर रहे हैं। यात्रियों में चारधाम यात्रा के लिए होने वाले रजिस्ट्रेशन को लेकर संशय है। रजिस्ट्रेशन निर्धारित करने से परेशानी हो रही है।
आशुतोष शर्मा, अध्यक्ष हरिद्वार होटल एसोसिएशन

होटल में बुकिंग हो रही है, लेकिन यात्री रजिस्ट्रेशन होने पर ही हरिद्वार पहुंचने की बात कर रहे हैं। यात्रियों की संख्या निर्धारित होने के कारण परेशानी हो रही है। यात्री पहले रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं। 
विभाष मिश्रा, होटल कारोबारी

चारधाम यात्रा के लिए होटलों में करीब 25 फीसदी एडवांस बुकिंग हो चुकी है। कारोबारियों को इस वर्ष रिकॉर्ड तोड़ यात्रियों के पहुंचने की उम्मीद है। संख्या निर्धारित होने से कारोबारी परेशान हैं। 
कुलदीप शर्मा, अध्यक्ष बजट होटल एसोसिएशन

केदारनाथ-बदरीनाथ सहित चारधाम के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य, व्हाट्सअप से भी पंजीकरण
केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के लिए 21 फरवरी से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। चारधाम यात्रा पर जाने के इच्छुक तीर्थ यात्री वेबसाइट, टोल फ्री नंबर, व्हाट्सअप नंबर पर पंजीकरण करा रहे हैं। सरकार की ओर से तीर्थ यात्रियों को यात्रा पर जाने से पहले पंजीकरण के लिए चार विकल्प दिए हैं।

श्रद्धालु वेबसाइट, व्हाट्सअप नंबर, टोल फ्री नंबर के साथ ही मोबाइल एप पर भी अपनी सुविधानुसार पंजीकरण करा सकते हैं। श्रद्धालु वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in पर पंजीकरण करा सकेंगे। व्हाट्सअप नंबर 8394833833 पर पंजीकरण का विकल्प रहेगा।

टोल फ्री नंबर 01351364 के साथ मोबाइल एप touristcareuttarakhand को डाउनलोड कर भी पंजीकरण किया जा सकेगा। अभी पहले चरण में सिर्फ केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के लिए ही पंजीकरण होंगे। पहले नवरात्र के दिन गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने का समय तय होते ही चारों धामों के लिए पूरी संख्या में पंजीकरण शुरू हो जाएंगे।