ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडनार्को टेस्ट से गुजरेंगे अंकिता भंडारी के हत्यारे, कड़ी सजा दिलाने SIT ने कर ली बड़ी तैयारी

नार्को टेस्ट से गुजरेंगे अंकिता भंडारी के हत्यारे, कड़ी सजा दिलाने SIT ने कर ली बड़ी तैयारी

19 साल की रिसॉर्ट रिसेप्शनिस्ट और उत्तराखंड के पौड़ी की रहने वाली अंकिता भंडारी की हत्या के मामले में अभी तक का सबसे ताजा अपडेट सामने आया है।

नार्को टेस्ट से गुजरेंगे अंकिता भंडारी के हत्यारे, कड़ी सजा दिलाने SIT ने कर ली बड़ी तैयारी
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,देहरादूनSun, 04 Dec 2022 09:22 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

ankita bhandari murder case update: 19 साल की रिसॉर्ट रिसेप्शनिस्ट और उत्तराखंड के यमकेश्वर की रहने वाली अंकिता भंडारी की हत्या के मामले में अभी तक का सबसे ताजा अपडेट सामने आया है। सूत्रों के अनुसार, अंकिता केस में तीन मुख्य आरोपियों का नार्को टेस्ट होगा। इसके लिए जांच एजेंसी एसआईटी ने कोर्ट में अर्जी दी है। अर्जी मंजूर होते ही नार्को टेस्ट कराया जाएगा। सूत्रों का यह भी कहना है कि हालिया राज्य विधानसभा सत्र के दौरान सदन से सड़क तक बवाल के बाद जागी सरकार के निर्देशों के बाद पुलिस आरोपियों को सख्त सजा दिलवाने के लिए सबूतों को पुख्ता करना चाहती है। ऐसे में पुलिस को लगता है कि कोर्ट में चार्जशीट दायर करने से पहले नार्को टेस्ट बेहद जरूरी है। 

सूत्रों के मुताबिक, अंकिता भंडारी हत्याकांड के तीनों आरोपियों का नार्को टेस्ट होगा। इसके लिए कोर्ट में अर्जी पहले ही दी जा चुकी है। कोर्ट से अर्जी मंजूर होते ही नार्को टेस्ट कराया जाएगा। नार्को टेस्ट कराने के बाद हत्याकांड की चार्जशीट कोर्ट में पेश की जाएगी। सूत्रों ने बताया कि सबूतों को पुख्ता करने और आरोपियों को सख्त सजा दिलाने के लिए नार्को टेस्ट कराया जाएगा।

अंकिता भंडारी के साथ क्या हुआ था 
उत्तराखंड में ऋषिकेश के पास एक रिसॉर्ट में 19 वर्षीय रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की कथित तौर पर रिसॉर्ट मालिक पुलकित आर्य और उसके दो साथियों ने हत्या कर दी थी। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, 22 सितंबर को राजस्व पुलिस से नियमित पुलिस बल को मामला सौंपे जाने के 24 घंटे के भीतर रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

रिसॉर्ट के राज न खुले इसलिए की थी हत्या
आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में कबूला था कि रिसॉर्ट में अवैध देह व्यापार धंधे का पर्दाफाश न हो जाए, इसके लिए पुलकित आर्य ने अपने साथियों के साथ मिलकर अंकिता की हत्या की थी। उसने कहा था कि उन्होंने 18 सितंबर को अंकिता को चिल्ला नहर में धकेल दिया था। पुलिस को वारदात के 6 दिन बाद 24 सितंबर को शव मिला था।

विधानसभा सत्र में कांग्रेस का हंगामा
यहां गौर करने वाली बात यह है कि मुख्य आरोपी पुलकित आर्य, भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नेता विनोद आर्य का बेटा है। हालांकि भाजपा ने तुरंत ऐक्शन लेते हुए उसके पिता और भाई को पार्टी के सभी पदों से निष्कासित कर लिया था। लेकिन, हालिया विधानसभा सत्र में कांग्रेस ने अंकिता भंडारी मर्डर केस पर भाजपा सरकार को निशाने पर लिया। धीमी कार्रवाई को लेकर सवाल उठाए। माना जा रहा है कि सरकार के निर्देश पर पुलिस हत्याकांड मामले में आरोपियों के खिलाफ मजबूत सबूत इकट्ठा करना चाहती है। इसलिए कोर्ट में चार्जशीट दायर करने से पहले सभी आरोपियों का नार्को टेस्ट कराया जाएगा।