ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंडअमृतपाल सिंह का अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पार कर नया ठिकाना? नेपाल में तलाश रहे पुलिस के खबरी

अमृतपाल सिंह का अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पार कर नया ठिकाना? नेपाल में तलाश रहे पुलिस के खबरी

‘वारिस-पंजाब दे’ के प्रमुख और खालिस्तान खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह की तलाश में पुलिस भगोड़े की तलाश में पिछले कई दिनों से छापेमारी करने में जुटी हुई है। पुलिस खबरी नेपाल में तलाश रहे।

अमृतपाल सिंह का अंतरराष्ट्रीय  बॉर्डर पार कर नया ठिकाना? नेपाल में तलाश रहे पुलिस के खबरी
Himanshu Kumar Lallहल्द्वानी, हिन्दुस्तान टीमWed, 29 Mar 2023 12:31 PM
ऐप पर पढ़ें

‘वारिस-पंजाब दे’ के प्रमुख और खालिस्तान खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह की तलाश में यूपी, दिल्ली सहित देश के कई राज्यों की पुलिस भगोड़े की तलाश में पिछले कई दिनों से छापेमारी करने में जुटी हुई है। अंतरराज्कीय और अंतरराष्ट्रीय नेपाल बॉर्डर पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है।

पिछले कई दिनों की भागदौड़ के बाद भी पुलिस के हाथ कोई सफलता नहीं लगी है। ऐसे में आशंका जताई जा रह है कि भगोड़ा अमृतपाल उत्तराखंड बॉर्डर से होते हुए नेपाल भाग चुका है। पुष्ट सूत्रों की बात मानें तो खूफिया टिप के बाद नेपाल में बैठे सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस के खबरियों को अलर्ट कर दिया गया है।

भगोड़े की तलाश कर रही पुलिस टीम ने अमृतपाल की फोटो भेजकर जल्द से जल्द उसका सुराग लगाने को कहा गया है। अमृतपाल सिंह के उत्तराखंड से नेपाल भागने के इनपुट मिलने के साथ कुमाऊं से लगी नेपाल की सीमा को पूरी तरह बंद कर दिया गया था। यूपी सहित हिमाचल प्रदेश बॉर्डर पर भी सतर्कता बढ़ा दी गई थी।

यह भी पढ़ें:अमृतपाल सिंह के समर्थन में समर्थकों की इस हरकत से पुलिस भी रह गई दंग, UP सहित नेपाल अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर अलर्ट

आने-जाने वाले अंतरराष्ट्रीय मार्गों सहित अन्य सभी रास्तों पर कड़ी नजर रखी जा रही थी। इसके बाद भी अमृतपाल सिंह का कोई सुराग नहीं लग पाया था। अब सुरक्षा एजेंसियां अमृतपाल सिंह के नेपाल भागने की आशंका जता रही हैं। इसे देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने नेपाल के अधिकारियों के साथ संपर्क साधना शुरू कर दिया है।

नेपाल में बैठे खबरियों को अलर्ट पर रखा गया है। किसी भी प्रकार का इनपुट मिलने पर तत्काल सूचना देने को कहा गया है। इंटेलिजेंस के अधिकारियों की मानें तो अमृतपाल के नेपाल में होने की संभावना काफी अधिक है। उसे नेपाल में रहने वाले भारत के ही कुछ बदमाशों द्वारा शरण दिए जाने की आशंका है।

कई भेष में फोटो भेजीं
पंजाब सरकार ने अमृतपाल की कई फोटो साझा की थीं। अब सुरक्षा एजेंसियों ने मुखबिरों को अमृतपाल के फोटो शेयर किए हैं। आशंका जताई जा रही है कि अमृतपाल भेष बदलकर नेपाल में ही कहीं छुपा है। सुरक्षा एजेंसियों के खबरी बस स्टैंड, एयरपोर्ट सहित सभी संभावित स्थानों पर अमृतपाल के बारे में पूछताछ कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:अमृतपाल सिंह की तलाश में पुलिस को लगा झटका, नेपाल बॉर्डर पर सेटेलाइट फोन के इस्तेमाल से मचा हड़कंप

नेपाल से अन्य देश भाग सकता है अमृतपाल
इंटेलिजेंस के अधिकारियों की मानें तो अमृतपाल का पहला लक्ष्य नेपाल पहुंचना है। वहां कई बड़े लोगों के साथ उसके अच्छे संबंध बताए जा रहे हैं। उन्हीं की मदद से वह नकली पासपोर्ट बनाकर अन्य देश भाग सकता है। बताया जा रहा है कि अगर अमृतपाल नेपाल से अन्य देश निकल गया तो उसका पुलिस की गिरफ्त में आना आसान नहीं होगा।

दोनों देशों के अधिकारियों ने साझा की जानकारियां
अमृतपाल के फरार होने का प्रकरण अब अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बन गया है। नेपाल भागने की आशंका के बीच भारतीय उच्चाधिकारियों ने नेपाल के अधिकारियों से मदद मांगी है। इसके लिए उन्होंने नेपाली अधिकारियों से अमृतपाल के संबंध में तमाम जानकारियां साझा की हैं। जिससे अमृतपाल को जल्द से जल्द पकड़ लिया जाए।

आईजी कुमाऊं, डॉ. नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि अमृतपाल के उत्तराखंड खासतौर पर कुमाऊं में होने का इनपुट मिलते ही खुफिया तंत्र को अलर्ट पर रखा गया है। अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात कर चेकिंग अभियान चलाय जा रहा है ।संभावित जगहों पर गश्त की जा रही है। अमृतपाल के समर्थकों पर भी नजर रखी जा रही है। 
नेपाल के अधिकारियों के साथ भी संपर्क स्थापित किया गया है।
  
भारत-नेपाल की फोर्स  ने गश्त की
खालिस्तान समर्थक अमृतपाल की तलाश में सीमा पर गहन चेकिंग जारी है। उसकी तलाश में भारत और नेपाल की संयुक्त फोर्स ने वन महोलिया से सेमलघाट तक 15 किलोमीटर पैदल गश्त की। इस दौरान एसएसबी की तीन कंपनियां, पुलिस और खुफिया विभाग के लोग शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: अमृतपाल सिंह जंगल के रास्ते नेपाल तो नहीं पहुंच गया? सोशल मीडिया फेसबुक से भी भागे समर्थक

सीमा से सटे नगरा तराई, वन महोलिया सहित कई गांवों में एसएसबी ने कांबिंग की। इस दौरान दोनों देशों के नागरिकों से सीमा पर पूछताछ की गई। सिसैया गांव में बैरियर लगाकर प्रतिदिन आवाजाही करने वाले लोगों से पूछताछ की जा रही है। एसओ झनकइया रविन्द्र बिष्ट ने बताया कि शारदा बैराज से लेकर बॉर्डर पर सेमलघाट, वन महोलिया तक पड़ने वाले गांवों में अमृतपाल के पोस्टर लगाए जा रहे हैं। लोगों की आईडी चेक की जा रही है। लोगों को अमृतपाल और उसके भगोड़े साथियों के अपराधों व भागने के विषय की जानकारी दी जा रही है। 

उत्तर प्रदेश से सटे बॉर्डर पर चेकिंग तेज 
खालिस्तान समर्थक अमृतपाल को लेकर जिले में पुलिस अलर्ट मोड पर है। उत्तर प्रदेश के साथ ही नेपाल से सटे बॉर्डर को सील कर चेकिंग की जा रही है। साथ ही अमृतपाल और उसके चार साथियों के पोस्टर सार्वजनिक स्थलों पर चस्पा किए गए हैं।  एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि जिले में आने वाले वाहनों के साथ ही पैदल आने वालों पर नजर रखकर उनसे पूछताछ की 
जा रही है।