DA Image
Saturday, December 4, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडदेहरादून-हरिद्वार के बाद हल्द्वानी में भी डेंगू का खतरा-अलर्ट जारी, रुड़की में पॉजिटिव बढ़े

देहरादून-हरिद्वार के बाद हल्द्वानी में भी डेंगू का खतरा-अलर्ट जारी, रुड़की में पॉजिटिव बढ़े

कार्यालय संवाददाता, हल्द्वानीHimanshu Kumar Lall
Sat, 23 Oct 2021 07:34 PM
देहरादून-हरिद्वार के बाद हल्द्वानी में भी डेंगू का खतरा-अलर्ट जारी, रुड़की में पॉजिटिव बढ़े

देहरादून-हरिद्वार के बाद अब हल्द्वानी में भी डेंगू का खतरा बढ़ गया है। स्वास्थ्य विभाग ने स्थितियों को भांपते हुए जहां एसटीएच में वार्ड रिजर्व घोषित कर दिए हैं, वहीं इलाज के लिए आने वाले मरीजों की डेंगू जांच भी कराई जा रही है। बीते दिनों हुई भारी बारिश के बाद घर में और घरों के बाहर जगह-जगह पानी इकठ्ठा हो गया है।

वहीं दूसरी ओर, हरिद्वार जिले के रुड़की में डेंगू का हाटस्पॉट बन चुके गाधारोणा गांव में 35 और लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। गांव में करीब एक सप्ताह में 129 मामले सामने आ चुके हैं। मुंडलाना में भी 12 लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। कई गांवों की रिपोर्ट अभी आना बाकी है। हरजौली में भी टीम ने सैंपल लिए। धूप भी निकलने लगी है। इसके बाद से हल्द्वानी व उसके आसपास के इलाजों में डेंगू के मच्छर के पनपने का खतरा बढ़ गया है। 

देहरादून-हरिद्वार में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ने के चलते स्वास्थ्य विभाग पहले से ही अलर्ट मोड पर है। इधर, एसटीएच प्रशासन ने बाल रोग विभाग व मेडिसन विभाग के अलावा वार्ड सी आदि डेंगू के लिए रिजर्व करने शुरू कर दिए हैं। ओपीडी में आ रहे बुखार के मरीजों की डेंगू जांच भी कराई जा रही है। एसटीएच में 1-2 मरीज रोजाना डेंगू की शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं।

कोरोना के साथ डेंगू जांच
प्राइवेट अस्पतालों के साथ-साथ सरकारी अस्पतालों को जिला स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू को लेकर निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत बुखार के मरीजों की कोरोना के साथ डेंगू की जांच भी अनिवार्य कर दी गई है। वहीं जहां से भी डेंगू के केस मिल रहे हैं, उन इलाकों में सर्विलांस करने के निर्देश भी जारी किए हैं।

16 मरीज मिल चुके अब तक
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार इस सीजन में अभी तक 16 डेंगू के मरीज सामने आए हैं। सभी मरीजो को जरूरी चिकित्सा सुविधा दी गई है। जिन इलाकों से यह मरीज आए थे, वहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को पड़ताल के लिए कहा गया।

बीते दिनों हुई भारी बारिश के बाद डेंगू का खतरा बढ़ गया है। इसके बाद से एसटीएच में डेंगू वार्ड बना दिए गए हैं। साथ ही बुखार के मरीजों की डेंगू जांच भी कराई जा रही है।
डॉ. अरुण जोशी, प्राचार्य, राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी

डेंगू के केस बढ़ने की आशंका है, जिसको लेकर सरकारी व प्राइवेट दोनों अस्पतालों में कोरोना के साथ डेंगू की जांच को भी अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही जागरूकता कार्यक्रम भी चलाने को लेकर दिशा निर्देश दिए गए हैं।
डॉ. भागीरथी जोशी, सीएमओ, नैनीताल
 
कोरोना के कहर के बाद रुड़की में डेंगू का डंक,47 पॉजिटिव मिलने से मचा हड़कंप
रुड़की में कोरोना के कहर के बाद अब डेंगू का आतंक है। डेंगू का हाटस्पॉट बन चुके गाधारोणा गांव में 35 और लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। गांव में करीब एक सप्ताह में 129 मामले सामने आ चुके हैं। मुंडलाना में भी 12 लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है। कई गांवों की रिपोर्ट अभी आना बाकी है। हरजौली में भी टीम ने सैंपल लिए।

मानसून सीजन के आसपास हर साल डेंगू के मामले सामने आते हैं। पिछले साल कोरोना की पहली लहर के बाद डेंगू के मामले कम आए थे। लेकिन इस साल कई जगह डेंगू कहर बन रहा है। सबसे पहले गाधारोणा में संदिग्ध बुखार फैलने की सूचना आयी थी। जिसके बाद गांव में स्वास्थ्य विभाग ने सर्वे किया और ग्रामीणों के ब्लड सैंपल लिए।

पिछले रविवार को 19 लोगों की एजाइजा जांच में डेंगू की पुष्टि हुई थी। धीरे-धीरे यह संख्या बढ़ती गई। बुखार पीड़ित एक पचास साल के व्यक्ति की मौत होने पर स्वास्थ्य विभाग ने फिर से सैंपल लिए थे। शनिवार को आयी रिपोर्ट में 35 और लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई। गाधारोणा गांव में डेंगू मरीजों की कुल संख्या 129 पहुंच गयी है।

जबकि 30 लोगों की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। इसके साथ ही मुंडलाना गांव में भी 12 लोगों की डेंगू की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग ने भलस्वागाज में भी बुखार फैलने की सूचना पर 59 लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए हैं। हरजौली में भी बुखार फैलने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची।

यहां 38 लोगों के सैंपल लिए गए हैं। 22 लोगों की मलेरिया की जांच की, लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. गुरुनाम सिंह ने बताया कि दो गांवों में 47 लोगों में डेंगू की पुष्टि एलाइजा जांच में हुई है। क्षेत्रों पर लगातार नजर रखी जा रही है। 

नौ मरीज अस्पताल में हैं भर्ती
रुड़की शहर में भी कई मोहल्लों में डेंगू मरीज मिले थे। आसपास क्षेत्र में लगातार मरीज मिलने पर सिविल अस्पताल में डेंगू मरीजों के लिए 30 बेड रिजर्व किए गए हैं। शनिवार दोपहर दो बजे तक यहां नौ मरीज भर्ती थे। सीएमएस डॉ. संजय कंसल ने बताया कि जो मरीज ठीक हो रहे हैं उन्हें घर भेजा जा रहा है। शुक्रवार को चौदह मरीज भर्ती थे।

अगले पंद्रह दिन संवेदनशील
जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. गुरुनाम सिंह ने बताया कि अगले पंद्रह दिन डेंगू के लिहाज से संवेदनशील हैं। उन्होंने लोगों से बचाव के लिए एहतियाती उपाय करने को कहा। बताया कि जैसे-जैसे तापमान घटेगा वैसे ही डेंगू का प्रकोप खत्म हो जाएगा। फिलहाल लोगों को सतर्कता बरतने की जरूरत है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें