ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंडअब्दुल मलिक तो 'राजा' निकला! महल और सामान देखकर सब हैरान; हिसाब लगाना मुश्किल

अब्दुल मलिक तो 'राजा' निकला! महल और सामान देखकर सब हैरान; हिसाब लगाना मुश्किल

हल्द्वानी में हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक फरार है। उत्तराखंड से दिल्ली तक कई राज्यों में उसकी तलाश के बीच पुलिस ने उसके खिलाफ ऐक्शन की शुरुआत कर दी है। शुक्रवार को घर की कुर्की की गई।

अब्दुल मलिक तो 'राजा' निकला! महल और सामान देखकर सब हैरान; हिसाब लगाना मुश्किल
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,हल्द्वानीSat, 17 Feb 2024 03:16 PM
ऐप पर पढ़ें

हल्द्वानी में हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक फरार है। उत्तराखंड से दिल्ली तक कई राज्यों में उसकी तलाश के बीच पुलिस ने उसके खिलाफ ऐक्शन की शुरुआत कर दी है। कोर्ट के आदेश के बाद शुक्रवार को हल्द्वानी पुलिस ने उसके मकान की कुर्की की। अब्दुला के 'महल' और अंदर सुख-सुविधा के साजो-सामान देखकर पुलिस भी हैरान रह गई।

5 लोगों की जान लेने वाली भयानक हिंसा के मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक का यह मकान 1950 का बना हुआ है। महल रूपी इस मकान में आधुनिक सभी सुख-सुविधाएं उपलब्ध हैं। सिंहासन जैसी कुर्सियां और आरामदायक सोफे, एसी-फ्रिज की तो भरमार। सोना-चांदी और नकदी समेत इतनी दौलत और सामान कि पुलिस के लिए हिसाब लगाना मुश्किल हो गया। 

कभी खानाबदोश रहे अब्दुल मलिक के परिवार की गिनती आज हल्द्वानी के सबसे समृद्ध और प्रभावशाली लोगों में होती है। पूर्वज घोड़ों का व्यापार करते थे तो बाद में लकड़ी के व्यवसाय में भी काफी धन कमाया। अब्दुल मलिक बड़ा ठेकेदार है। बताया जाता है कि वह रोड से रेल तक के सरकारी ठेके भी लेता था। अब्दुल मलिक का 'साम्राज्य' दिल्ली, यूपी और हरियाणा तक में है। पुलिस को शक है कि उसके पास बड़ी मात्रा में बेनामी संपत्ति भी है। 

अब्दुल मलिक के कब्जे में ही वनभूलपुरा का वह कथित मदरसा और नमाज स्थल था जिसको तोड़े जाने को लेकर हल्द्वानी में हिंसा भड़की। नगर निगम और पुलिस की टीम पर जमकर पथराव किया गया। थाने पर हमला किया गया और आगजनी हुई। हिंसा में पांच लोगों की मौत हो गई तो 300 से ज्यादा जख्मी हो गए। पुलिस तब से ही अब्दुल मलिक और उसके बेटे की तलाश में जुटी है। अब्दुल मलिक के विदेश भाग जाने की भी आशंका है। उसकी अरब देशों में कई रिश्तेदारी होने की बात सामने आई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें