ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तराखंड7 बाघ पिंजरे के पास से गुजरे पर झांसे में नहीं आए, वन विभाग का आदमखोर को पकड़ने का अब क्या प्लान?

7 बाघ पिंजरे के पास से गुजरे पर झांसे में नहीं आए, वन विभाग का आदमखोर को पकड़ने का अब क्या प्लान?

पिंजरे के आसपास से सात बार बाघ गुजर रहे हैं। लेकिन इनमें से एक भी वन विभाग की पकड़ में नहीं आया है। ऐसे में वन विभाग की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। हमलावर की पहचान कर उसे रेस्क्यू करना चाहता है।

7 बाघ पिंजरे के पास से गुजरे पर झांसे में नहीं आए, वन विभाग का आदमखोर को पकड़ने का अब क्या प्लान?
Himanshu Kumar Lallहल्द्वानी, हिन्दुस्तानTue, 16 Jan 2024 05:58 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड के तराई पश्चिम वन प्रभाग में बाघ का आतंक कैसे थमेगा अब यह एक पहली बनता जा है। वन विभाग की ओर से लगाए गए पिंजरों के पास एक के बाद एक 7 बाघ गुजर गए, लेकिन हैरानी की बात है कि एक भी बाघ झांसा में नहीं आया। चिंता की बात है कि हमलावर बाघ को वन विभाग दो महीने बाद भी नहीं पकड़ सका है।

घटनास्थल पर लगाए पिंजरे के आसपास से सात बार बाघ गुजर रहे हैं। लेकिन इनमें से एक भी वन विभाग की पकड़ में नहीं आया है। ऐसे में वन विभाग की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। वन विभाग हमलावर की पहचान कर उसे रेस्क्यू सेंटर भेजना चाहता है। तराई पश्चिम वन प्रभाग की आमपोखरा रेंज के हाथीडगर में बाघ ने बीती नौ नवंबर की शाम महिला पूजा देवी पर हमला किया था।

उसकी मौत हो गई थी। दूसरे ही दिन बाघ ने बाइक सवार तीन युवकों पर हमला किया। बाघ के खूंखार होने पर उसे पकड़ने की अनुमति दी गई थी। एसडीओ संदीप गिरी ने बताया कि कैमरा ट्रैप में सात बाघ पिंजरे के पास दिखे हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें