Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तराखंडराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की वीआईपी ड्यूटी पर आए 12 पुलिसवाले कोरोना पॉजिटिव 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की वीआईपी ड्यूटी पर आए 12 पुलिसवाले कोरोना पॉजिटिव 

संवाददाता, ऋषिकेश Himanshu Kumar Lall
Sun, 28 Nov 2021 08:50 PM
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की वीआईपी ड्यूटी पर आए 12 पुलिसवाले कोरोना पॉजिटिव 

इस खबर को सुनें

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन को लेकर वीआईपी ड्यूटी में लगाए गए 12 पुलिसकर्मियों और अन्य विभागों के सात कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटव मिलने से हड़कंप मच गया। हालांकि, राष्ट्रपति के आगमन से पहले ही सभी संक्रमित  कर्मचारियों को ड्यूटी से हटा दिया गया।  बीते शनिवार को वीआईपी ड्यूटी के लिए परमार्थ निकेतन पहुंचने पर चमोली, रुद्रप्रयाग, देहरादून, टिहरी व पौड़ी के करीब 400 पुलिसकर्मियों तथा अन्य विभागों के कर्मचारियों की की कोरोना जांच कराई गई थी।

रविवार सुबह को मिली रिपोर्ट के अनुसार, उक्त में से 12 जवान और सात कर्मचारियों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया। हालांकि संक्रमित जवानों में से कोई भी रविवार को वीआईपी ड्यूटी में तैनात नहीं रहा। यमकेश्वर ब्लॉक के कोविड नोडल अधिकारी डॉ. राजीव कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमितों में चमोली, रुद्रप्रयाग, देहरादून और पौड़ी जनपद के 12 पुलिसकर्मी और सात अन्य कर्मचारी शामिल थे।

विभाग ने संक्रमित कर्मचारियों को ड्यूटी से वापस भेज दिया। सभी कर्मचारी अगले 14 दिन होम आइसोलेशन में रहेंगे। वीआईपी ड्यूटी के लिए आए ये पुलिसकर्मी  और कर्मचारी अन्य पुलिसवालों,आश्रम के कर्मचारियों और स्वर्गाश्रम बाजार के दुकानदारों समेत तमाम लोगों के संपर्क में आए थे। स्वास्थ्य विभाग इनके संपर्क में आए लोगों की सूची बना रहा है। इन सभी की कोरोना जांच कराई जाएगी। 

यह भी पढ़ें:Covid-19:ढाई महीने बाद उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव केसों में उछाल,पौड़ी जिले में सबसे ज्यादा केस 

राष्ट्रपति कोविंद परिवार के साथ गंगा आरती में शामिल हुए
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार देर शाम वह पत्नी सविता कोविंद और बेटी स्वाति के साथ सांध्यकालीन गंगा आरती में शामिल हुए। कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार दोपहर बाद परमार्थ निकेतन पहुंचे थे। यहां उनका ऋषिकुमारों ने वैदिक मंत्रोच्चारण से स्वागत किया। राष्ट्रपति का रात्रि विश्राम परमार्थ निकेतन में ही रहा। रविवार दोपहर बाद करीब 3.45 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पत्नी और बेटी स्वाति के साथ स्वर्गाश्रम स्थित परमार्थ निकेतन घाट पहुंचे। परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती के सान्निध्य में ऋषिकुमारों और आचार्यों ने तिलक लगाकर, पुष्प वर्षा और शंख ध्वनि से उनका स्वागत किया।

मौके पर उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, गढ़वाल सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत भी मौजूद रहे। इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वामी चिदानंद सरस्वती महाराज की कुटिया में संस्कृति और अध्यात्म समेत स्वामी चिदानंद सरस्वती के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे विभिन्न सेवा कार्यों पर चर्चा की। इसके बाद वह शाम 5 बजकर 20 मिनट पर परमार्थ निकेतन घाट पहुंचे। यहां शंख, घंटे-घड़ियालों की ध्वनि के बीच गंगा आरती में शामिल होकर राष्ट्रपति अभिभूत नजर आए। राष्ट्रपति की पत्नी सविता कोविंद और बेटी ने गंगा में दीपदान किया।

 

epaper

संबंधित खबरें