ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड24 घंटे के अंदर 5 सड़क हादसों में 19 मौतें-35 घायल, उत्तराखंड में गाड़ियों के खाई में गिरने की क्या वजह?

24 घंटे के अंदर 5 सड़क हादसों में 19 मौतें-35 घायल, उत्तराखंड में गाड़ियों के खाई में गिरने की क्या वजह?

उत्तराखंड के 13 जिलों में से पौड़ी में रविवार शाम तक तीन कारें गहरी खाई में गिरी हैं। जबकि, रुद्रप्रयाग में शनिवार को टेंपो ट्रैवलर के अलकनंदा नदी में गिरने से 14 यात्रियों की दर्दनाक मौत हो गई थी।

24 घंटे के अंदर 5 सड़क हादसों में 19 मौतें-35 घायल, उत्तराखंड में गाड़ियों के खाई में गिरने की क्या वजह?
Himanshu Kumar Lallदेहरादून, लाइव हिन्दुस्तानSun, 16 Jun 2024 07:27 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे मुश्किलों भरा दिन गुजरा है। चिंता की बात है कि पिछले 24 घंटे में पांच अलग-अलग सड़क हादसों में 19 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि, अलग-अलग जिलों में सड़क हादसों में 35 लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं। घायलों को एयरलिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया है।

उत्तराखंड के 13 जिलों में से पौड़ी में रविवार शाम तक तीन कारें गहरी खाई में गिरी हैं। जबकि, रुद्रप्रयाग में शनिवार को टेंपो ट्रैवलर के अलकनंदा नदी में गिरने से 14 यात्रियों की दर्दनाक मौत हो गई थी। हल्द्वानी में भी एक कार गहरी खाई में गिर गई थी जिसकी वजह से परिवार के छह सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

एक्सपर्ट की बात मानें तो पहाड़ों पर ओवर स्पीडिंग के साथ ही ड्राइवर को नींद की झपकी आने से सड़क हादसे हो रहे हैं। चिंता की बात है कि ड्राइवर की थोड़ी सी भी लापरवाही की वजह से गाड़ी गहरी खाई में गिर जा रही है। 

रविवार शाम तक पौड़ी जिले में एक टैक्सी समेत दो प्राइवेट कारें खाई में गिर गईं। तीन अलग-अलग सड़क हादसों में 5 लोगों की मौत हो गई, जबकि 17 लोग घायल हो गए। हादसों में घायल हुए दो को एयरलिफ्ट भी किया गया।पौड़ी जिले में रविवार की सुबह को सतपुली-कोटद्वार हाइवे पर कुल्हाड़ बैंड के पास एक बुलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

जिससे वाहन में सवार 10 लोग घायल हो गए। ये सभी लोग बीरोंखाल ब्लाक के कसानी के रहने वाले है और हरिद्वार गंगा स्नान के लिए जा रहे थे। इसके बाद खिर्सू्-कठूली लिंक मोटरमार्ग पर एक शादी की कार दुघर्टनाग्रस्त होकर गहरी खाई में जा गिरी। जिसमें 4 की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 3 घायल हो गए।

गंभीर दो घायलों को एयरलिफ्ट किया गया। वहीं, सतपुली में दंगलेश्वर महादेव मंदिर के पास रेतपुर से सतपुली की ओर जा रही एक अल्टो कार अनियंत्रित होकर करीब 100 मीटर खाई में जा गिरी। इस हादसे में एक व्यक्ति की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई।

जबकि 4 लोग घायल हो गए। पौड़ी के डीएम डा.आशीष चौहान ने हादसों पर दुख जताते हुए कहा कि हादसों की समीक्षा की जाएगी। सड़क सुरक्षा को लेकर आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। चेताया कि ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

रुद्रप्रयाग में टेंपो ट्रैवलर नदी में गिरा 
उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में एक टेंपो ट्रैवलर शनिवार सुबह अलकनंदा नदी में गिर गया था। हादसे के वक्त टेंपो ट्रैवलर में कुल 26 पर्यटक सवार थे। टेंपो ट्रैवलर के नदी में गिरने से 14 पर्यटकों की मौत हो गई थी, जबकि 12 पर्यटक गंभीर रूप से घायल हो गए थे। मृतकों में दिल्ली, नोएडा आदि शहरों के पर्यटक थे, जो घूमने के लिए उत्तराखंड के चोपटा जा रहे थे। घायलों को एयर लिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया है। 

हल्द्वानी में कार खाई में गिरी, परिवार के छह सदस्य घायल
हल्द्वानी में एक कार के गहरी खाई में गिरने से परिवार के छह सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई थी कि हादसे के वक्त कार का ब्रेक फेल हो गया था। बेरीनाग से शनिवार शाम हल्द्वानी जा रहे एक परिवार की कार के ब्रेक फेल होने से अल्मोड़ा जिले के भतरौंजखान के पास 500 फीट गहरी खाई में गिर गई। घायलों को रेस्क्यू कर रामनगर अस्पताल फिर हल्द्वानी के लिए रेफर किया गया था। 

पहाड़ों पर ड्राइविंग पर रखें यह सावधानी
-गाड़ी को हमेशा अपनी बाएं ओर ही चलाएं 
-स्पीड लिमिट का जरूर ख्याल रखें 
-मोड़ों पर हॉर्न अवश्य दें 
-गाड़ी को लगातार चलाने से बचें
-दो-तीन घंटे के सफर के बाद आराम अवश्य करें 
-सफर पर जाने से पहले गाड़ी की ब्रेक कए बार अवश्य जांच लें 
-नींद की हल्की सी भी झपकी आने पर तुरंत ही गाड़ी को रोकें 
-पहाड़ों पर ओवरटेक करते समय अत्यधिक सावधानी अवश्य रखें