DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीरज के गीतों पर देर तक झूमते रहे लोग

नीरज के गीतों पर देर तक झूमते रहे लोग

प्रख्यात गीतकार, कवि गोपाल दास नीरज की याद में यूनिटी स्क्वायर में मां फाउंडेशन की ओर से एक शाम नीरज के नाम कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें नगर के युवा प्रतिभाओं ने नीरज की कविताओं का पाठ किया तो युवा गायको ने नीरज के गीतों की प्रस्तुति श्रोताओं के सम्मुख रखी। जिस पर देर सांय तक लोग नीरज के गीतों पर झूमते रहे। कार्यक्रम में साहित्यकार बीना बैंजवाल को भी मां फाउंडेशन की ओर से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में उपासना भट्ट की पेंटिंग भी आकर्षण का केन्द्र बनी रही। फाउंडेशन की अध्यक्षा प्रभा खंडूड़ी ने कार्यक्रम का उद्देश्य नीरज की कृतियों को याद करने के साथ ही युवाओं को मंच प्रदान करना भी है। डा. कविता भट्ट ने कार्यक्रम में नीरज के व्यक्तित्व एवं रचनाओं पर चर्चा की। युवा गायिका अंजली खरे ने नीरज के लिखे हुए गीत रंगीला रे तेरे रंग में, गीत की शानदार प्रस्तुति श्रोताओं के मध्य रखी। दीपक नैथानी ने फूलों के रंग से, प्रवीन ने खिलते हैं गुल जहां, भानेस ने चूडी नहीं मेरा दिल है, प्रेरणा व कशिश ने पल-पल दिल के पास व अमन धनाई ने लिखे जो खत तुझे गीत की प्रस्तुति दी। राजकीय इंटर कॉलेज मरखोड़ा की छात्राएं सोनाली, मीनाक्षी बहुगुणा, शैलजा मनूड़ी, कविता खत्री ने नीरज की कविताओं का पाठ किया। इस मौके पर श्रेष्ठ, प्रांजल, सिद्वार्थ ने वाद्ययंत्रों पर प्रस्तुति दी। सत्यजीत खंडूड़ी ने अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। सुमित रिंगवाल ने कार्यक्रम का संचालन किया। इस मौके पर प्रो. एआर डंगवाल, प्रो. किरन डंगवाल, कृष्णा नंद मैठाणी, उमा मैठाणी, उमा खंडूड़ी, अनिल स्वामी, महेश गिरी, अनिल स्वामी आदि मौजूद थे। वहीं कार्यक्रम में खानाबदोशी का जीवन यापन करने वाले बच्चों की प्रस्तुति कार्यक्रम में आकर्षण का केन्द्र रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People who have been busy for the songs of Neeraj