DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

15 सितम्बर तक एनआईटी का निर्माण शुरु न होने पर आंदोलन होगा

15 सितम्बर तक एनआईटी का निर्माण शुरु न होने पर आंदोलन होगा

प्रगतिशील जनमंच की बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि यदि 15 सितम्बर से पूर्व एनआईटी का निर्माण कार्य सुमाड़ी में शुरू नहीं किया गया तो आंदोलन किया जायेगा। इसके साथ ही नगर क्षेत्र में शुद्ध पानी की योजना का अभी तक कार्य पूरा न होने पर जनमंच शुद्ध पानी मुहैया कराने के लिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर करेगा। श्रीनगर में कल्याणेश्वर धर्मशाला में आयोजित बैठक में जनमंच के अध्यक्ष अनिल स्वामी ने कहा कि एमएचआरडी से सूचना मिली है कि सितम्बर माह में प्रथम या द्वितीय सप्ताह में सुमाड़ी में एनआईटी निर्माण शुरु करने का विचार कर रही है, यदि 15 सितम्बर से पूर्व एनआईटी का निर्माण कार्य शुरु नहीं होता है तो जनमंच आंदोलन के लिए बाध्य होगा। जबकि 12 अक्तूबर को जनमंच एक महाअधिवेशन आयोजित करेगा। जिसका संयोजक मुकेश अग्रवाल और सुरजीत बिष्ट को बनाया गया। इसके साथ ही 17 अगस्त को संयुक्त अस्तपाल की विभिन्न समस्याओं को लेकर जनमंच ज्ञापन सीएमओ और प्रदेश सरकार को प्रेषित करेगा। जनमंच के मीडिया प्रभारी सुरजीत बिष्ट ने कहा कि एनआईटी के संदर्भ में समस्त ज्ञापन जयपुर मंगाये जा रहे है, जिसका जनमंच घोर विरोध करता है। उन्होंने कहा कि 2 सितम्बर को खटीमा और मसूरी के शहीदों के लिए श्रद्धाजंलि कार्यक्रम आयोजित होगा। जबकि अगली 5 सितम्बर को आयोजित होगी। बैठक में जेपी पुरी, हरिप्रसाद उप्रेती, हदृयराम कोटनाला, आरपी चमोली, विनोद मैठानी, रजनी देवी, कुलानंद जुगरान, जगदम्बा रतूड़ी, चन्द्रमोहन बहुगुणा, गणेश प्रसाद टम्टा, सूर्यकांत ध्यानी, हीरा लाल जैन, दयाराम आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: If the construction of NIT does not start till September 15 there will be agitation