DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाइफाइड और एलर्जी की दवाईयां भी बाहर मेडिकल से

मरीजों को दवाईयां अस्पताल से ही लिखने के एडीएम और सीएमओ के निर्देशों की रुद्रपुर जिला अस्पताल में अनदेखी हो रही है। एलर्जी से लेकर टाइफाइड तक के मरीजों को चिकित्सक बाहर मेडिकल से महंगी दवाईयां लिख रहे है। शुक्रवार को जब आपके अपने हिन्दुस्तान अखबार ने अस्पताल में पड़ताल की तो यह चीजे सामने आई। करीब दर्जनभर मरीजों से हुई बातचीत में आधा दर्जन मरीजों ने डॉक्टरों द्वारा बाहर मेडिकल स्टोरों से दवाईयां लिखने की बात स्वीकारी। जिला अस्पताल में एलर्जी की समस्या को लेकर पहुंचे ट्राजिंट कैंप निवासी लाल सिंह ने बताया कि उन्हें एलर्जी हो रही थी। जिस पर डॉक्टर ने उन्हें दो दवाईयां बाहर से लिख दी। जो मेडिकल स्टोरों में 370 रुपये की मिली। वहीं भूतबंगला निवासी सर्वेश ने बताया कि उनके बेटे राम को टाइफाइड हुआ था।

जिसकी दवाई लेने वह जिला अस्पताल पहुंची। यहां डॉक्टर ने एक दवाई अंदर से लिखी बाकि तीन दवाई बाहर मेडिकल से लिख दी। इसके साथ ही रम्पुरा निवासी सीमा और नीशू ने भी डॉक्टरों पर दवाईयों के साथ ही थायराइड की जांच भी बाहर से कराने को लिखा है। ऐसे में मरीजों में नाराजगी का माहौल देखने को मिला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Typhoid and allergy medicines are also out of the medical