ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तराखंड रुद्रपुरसचिव स्वास्थ्य ने परखी डेंगू की रोकथाम और इलाज की व्यवस्थाएं

सचिव स्वास्थ्य ने परखी डेंगू की रोकथाम और इलाज की व्यवस्थाएं

स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर राजेश कुमार ने बुधवार को जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सीएमओ से डेंगू की रोकथाम और इलाज को...

सचिव स्वास्थ्य ने परखी डेंगू की रोकथाम और इलाज की व्यवस्थाएं
हिन्दुस्तान टीम,रुद्रपुरWed, 20 Sep 2023 11:50 PM
ऐप पर पढ़ें

स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर राजेश कुमार ने बुधवार को जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सीएमओ से डेंगू की रोकथाम और इलाज को लेकर जानकारी ली। उन्होंने कहा कि डेंगू के साथ ही मलेरिया, चिकनगुनिया और टायफाइड के मामलों की जांच करें। उन्होंने कहा कि डेंगू पर नियंत्रण के साथ इलाज के बाद मरीज पूरी तरह से तंदुरुस्त होकर अस्पताल से जाए यह सुनिश्चित किया जाए।
बुधवार को जिला अस्पताल पहुंचे स्वास्थ सचिव आर राजेश कुमार ने कहा कि डेंगू की रोकथाम के लिए हर घर पर दस्तक देने को महाअभियान चलाया गया है। इससे डेंगू की रोकथाम में मदद मिली है। उन्होंने बताया कि अब तक ऊधमसिंह नगर जिले में 52 केस आए हैं। जिला अस्पताल में डेंगू के छह केस और टायफाइड के नौ केस हैं। डेंगू के साथ ही स्ट्रेपटाइसेस, कोलेरा, चिकनगुनिया और टायफाइड की भी स्टेट लेवल पर मॉनिटरिंग होगी। उन्होंने कहा कि टायफाइड और मलेरिया की जांच के लिए भी सीएमओ को निर्देशित किया गया है। उन्होंने ट्रीटमेंट और मैनेजमेंट दोनों व्यवस्थाएं परखी हैं। जहां सुधार की दरकार है वहां सीएमओ को निर्देशित किया है। सचिव स्वास्थ्य ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग जिला प्रशासन की मदद से डेंगू की रोकथाम के लिए अभियान चला रहा है। इस दौरान लार्वा नष्ट किया जा रहा है। जहां लार्वा मिलेगा वहां कार्रवाई के आदेश का मतलब सतर्कता के स्तर को बढ़ाना है।

मेडिकल कॉलेज की निर्माणाधीन बुनियाद 25 सितंबर हो होगी ध्वस्त

सचिव स्वास्थ ने कहा कि रुद्रपुर के मेडिकल कॉलेज के निर्माण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए कार्य चल रहा है। पूर्व की निर्माण एजेंसी ने कार्य में लापरवाही बरती थी। उसे हटा दिया गया था। अब पेयजल निर्माण निगम कार्यदायी संस्था है। आईआईटी रूड़की से कराए सर्वे में बुनियान में खामियां मिली थीं। 25 सितंबर को इसे ध्वस्त कर इसकी नीलामी की जाएगी। इसके बाद मेडिकल कॉलज का कार्य शुरू होगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।