DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गल्फार कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा

उत्तरप्रदेश के गौतमबुद्ध नगर की पाम कंस्ट्रक्शन एंड सप्लायर कंपनी के प्रबंधक ने रुद्रपुर कोतवाली में गल्फार इंजीनियरिंग एंड कांट्रेक्टिंग कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। उत्तरप्रदेश के गौतमबुद्ध नगर की पाम कंस्ट्रक्शन एंड सप्लायर कंपनी के प्रबंधक नितिन गौड़ ने कोतवाली में दर्ज शिकायत में बताया कि उनकी फर्म ने वर्ष 2016 में गल्फार इंजीनियरिंग एंड कांट्रेक्टिंग कंपनी को काशीपुर-सितारगंज हाईवे प्रोजेक्ट का काम सौंपा था। जिसको गल्फार कंपनी ने तय समय पर पूरा कर दिया था लेकिन गल्फार कंपनी के पास इस प्रोजेक्ट के करीब 28 लाख 3460 रुपए शेष रह गये थे।

जब पाम कंस्ट्रक्शन कंपनी ने गल्फार कंपनी से यह धनराशि मांगी तो उन्होंने पैसे न होने का हवाला दिया। साथ ही राशि लौटाने तक मीशनों को पाम कंस्ट्रक्शन के पास गिरवी रख दिया। लेकिन कुछ समय बाद पता चला कि गल्फार कंपनी ने जो मशीन और वाहन उनके पास गिरवी रखे हैं, उनका बैंकों से लोन चल रहा है। इस पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए रुद्रपुर कोतवाली में गल्फार इंजीनियरिंग एंड कांट्रेक्टिंग कंपनी के खिलाफ तहरीर दी। तहरीर के आधार पर गल्फार कंपनी पर आईपीसी की धारा 420 और 406 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:galfaar companey par dhokhadadi mukadma darj