DA Image
22 अक्तूबर, 2020|12:30|IST

अगली स्टोरी

सरकार के कृषि-उद्यान के एकीकरण पर भड़के कर्मचारी

सरकार के कृषि-उद्यान के एकीकरण पर भड़के कर्मचारी

प्रदेश सरकार पर कृषि-उद्याग विभाग का एकीकरण करने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कृषि उद्यान संयुक्त मोर्चा के कार्मिकों ने विकास भवन में प्रदर्शन किया और शासनादेश की विचारधीन सुझावों की प्रतियां फूंकी। उन्होंने आगाह किया सरकार ने एकीकरण का फैसला लिया तो आंदोलन किया जाएगा।

उनका आरोप था कृषि-उद्यान विभाग के प्रस्तावित एकीकरण की कार्रवाई शासन स्तर पर गतिमान है। जिसके बाद दोनों विभागों का एकीकरण के बाद कार्यों के प्रभावित होने की संभावनाएं भी बढ़ जायेंगी। जिसकी भनक लगते ही संगठन ने कई बार शासन से शिकायत की और वार्ता की गई, लेकिन कोई निर्णय नहीं लिया। इस दौरान कार्मिकों ने आगाह किया यदि सरकार ने एकीकरण के मुद्दे पर स्थिति साफ नहीं की तो एक अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक काले फीते बांधकर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा। 20 अक्टूबर को डीएम के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भी भेजा जायेगा। फिर भी कोई निर्णय नहीं लिया गया तो प्रांतीय कार्यकारणी के साथ बैठक कर आगे के आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी। यहां त्रिलोकी नाथ, दान सिंह, सुभाष रयाल, रविंद्रजीत सिंह, कपिल देव, गीता जोशी, कविता भाटियां, आलोक त्रिपाठी, गीता कौर, डॉ. एसके सिंह, बीसी पंत, विजय कुमार आदि रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Employees raging on government 39 s agro-garden integration