DA Image
23 जनवरी, 2021|3:42|IST

अगली स्टोरी

डॉ. उपाध्याय को राजकीय शिक्षक संघ ने किया सम्मानित

डॉ. उपाध्याय को राजकीय शिक्षक संघ ने किया सम्मानित

शांतिपुरी। हमारे संवाददाता

ऊधमसिंह नगर राजकीय शिक्षक संघ ने विद्यालयों के विलीनीकरण मामले में उत्तराखंड हाईकोर्ट में याचिका दायर करने वाले डॉ. गणेश उपाध्याय को शॉल ओढ़ाकर और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने कहा सरकार के विलीनीकरण के कदम से सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले गरीब बच्चों के साथ अन्याय हो रहा था।

बीते गुरुवार को राजकीय शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष गुलाब सिंह सिरोही ने कहा उत्तराखंड सरकार की विद्यालयों के विलीनीकरण की योजना थी। सरकार के इस घातक कदम से विषम भौगोलिक परिस्थितियों में सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले गरीब बच्चों के साथ अन्याय हो रहा था। जिसकी पीड़ा को समझते हुए डॉ. उपाध्याय ने हाईकोर्ट नैनीताल में याचिका दायर की। जिसमें उत्तराखंड सरकार के विलीनीकरण के निर्णय को नैनीताल हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। रोक हटाने की अपील सरकार ने हाईकोर्ट में लगायी गयी। लेकिन हाईकोर्ट ने सरकार की अपील खारिज कर दी है। शिक्षक समाज का आभार व्यक्त करते हुये डॉ. उपाध्याय ने कहा सरकारी स्कूलों में शिक्षा प्राप्त करने वाले अधिकतर बच्चे गरीब हैं। यदि स्कूलों का विलीनीकरण किया जाता है तो गरीब बच्चे सुदूरवर्ती क्षेत्रों में अध्ययन करने में असमर्थ रहेंगे। यह शिक्षा के अधिकार अधिनियम का उल्लंघन है। उन्होंने कहा जिलाधिकारी ऊधमसिंहनगर ने हाईकोर्ट की रोक के बावजूद विद्यालयों का विलीनीकरण किया। जल्द ही इसके लिए अवमानना याचिका दायर करेंगे। यहां शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष गुलाब सिंह सिरोही, अमित त्यागी, पंकज चौहान, राकेश चौहान, सत्येंद्र राठी, अशोक चौहान, शैलेश जोशी, गोविंद कोरंगा, प्रदेश महिला सदस्य सोनी यादव, प्रकाश मिश्रा, जीवन सिंह कार्की, विनोद सिंह, कैलाश वर्मा, प्रभुदत्त जोशी रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dr Upadhyay honored by the State Teachers Association