DA Image
27 फरवरी, 2021|9:23|IST

अगली स्टोरी

राज्य आंदोलनकारियों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं: बिष्ट

default image

उत्तराखंड राज्य निर्माण आंदोलनकारी परिषद का प्रदेश सम्मेलन रुद्रपुर नगर निगम सभागार में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में उत्तराखंड राज्य आंदोलन के शहीदों को याद किया गया। प्रदेश सम्मेलन में उत्तराखंड के सभी जिलों से आये आंदोलनकारियों और उनके आश्रितों ने भाग लिया।

रविवार को नगर निगम सभागार में हुए सम्मेलन में परिषद के केन्द्रीय अध्यक्ष अवतार सिंह बिष्ट ने कहा कि सरकारों को आंदोलनकारियों की अनदेखी नहीं करनी चाहिये। आंदोलनकारियों ने राज्य निर्माण में कुर्बानियां दी हैं। आंदोलनकारी सक्रिय रूप से प्रदेश के विकास में योगदान करते आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों की मुख्य मांग मुजफ्फरनगर कांड के दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलाने, राज्य आंदोलनकारियों को 10 प्रतिशत क्षैतिक आरक्षण दिया जाये, आंदोलनकारियों के आश्रितों को बस में निशुल्क सफर करने की व्यवस्था की जाये। उन्होंने कहा कि सरकार अगर सहयोग नहीं करेगी तो उन्हें मजबूरी में विपक्ष की भूमिका निभानी होगी। विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा कि वे स्वयं राज्य आंदोलन के समय कई दिनों तक जेल में रहे हैं। राज्य आंदोलनकारियों को पूर्ण सहयोग देने की बात कही। वन विकास निगम के अध्यक्ष सुरेश परिहार ने कहा की वे राज्य आंदोलनकारियों की मांगों को प्रमुखता से रखेंगे। कार्यक्रम के अंत में राज्य आंदोलनकारियों ने विधायक ठुकराल और वन विकास निगम के अध्यक्ष सुरेश परिहार को मांगों का एक ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर मेयर रामपाल सिंह, प्रदेश महामंत्री ललित कांडपाल, विक्की पाठक, कमल पांडे, अनिल जोशी, विनोद जोशी, हरीश पाठक मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bisht ignored by state agitators Bisht