DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चारों ओर जंगलों की आग ने बढ़ाई आम लोगों की मुश्किलें

चारों ओर जंगलों की आग ने बढ़ाई आम लोगों की मुश्किलें

1 / 2काले धुएं ने बीच सांस लेना हुआ दूभर, वन सम्पदा के साथ ही जंगली जानवर भी हो रहे...

चारों ओर जंगलों की आग ने बढ़ाई आम लोगों की मुश्किलें

2 / 2काले धुएं ने बीच सांस लेना हुआ दूभर, वन सम्पदा के साथ ही जंगली जानवर भी हो रहे...

PreviousNext

बीते तीन दिनों के भीतर जिले के अनेक स्थानों पर जंगलों की आग तेजी से फैल रही है। धधक-धधक कर जल रहे जंगलों के कारण चारों और काला धुंआ फैला है जिसके बीच लोगों का सांस लेना भी दूभर हो गया है। वनाग्नि से बड़ी मात्रा में वन सम्पदा के साथ ही जंगली जानवर भी तबाह हो रहे हैं।रुद्रप्रयाग जिले में मुख्यालय के चारों ओर आग लगी है। स्वयं वन विभाग का दफ्तर, कलक्ट्रेट और प्रमुख सरकारी दफ्तर इसी कालें धुएं की जद में है। बीती सायं आग लगने का सिलसिला और भी बढ़ गया है। बुधवार को दिनभर गर्मी के साथ ही चारों ओर धुधं ने स्थानीय लोगों के साथ ही तीर्थयात्रियों की भी मुसीबतें बढ़ाई। मुख्यालय के लगे जवाड़ी, पुनाड़, ग्वाड, जयमंडी, बेला खुरड, तल्लानागपुर, भरदार आदि क्षेत्रों के जंगलों में आग लगी है। जबकि धनपुर, रानीगढ़, बच्छणस्यूं आदि क्षेत्रों में बड़ी मात्रा में जंगल आग की भेंट चढ़ रहे हैं। हालांकि बीते वर्ष की तुलना इस साल आग लगने की घटनाएं कम है किंतु गर्मी आते ही जंगलों में आग लगाने की घटनाओं को रोका नहीं जा रहा है। इधर वन विभाग के मुताबिक अभी तक आग लगने की कुल 40 घटनाएं हुई है, जिसमें 43.95 हेक्टेयर भूमि जलकर राख हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The fire of forests around the people