DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएलएड प्रशिक्षकों की बैठक में समस्याओं पर चर्चा

डीएलएड प्रशिक्षकों की बैठक में प्रशिक्षणार्थियों की समस्याओं पर चर्चा की। इस मौके पर एनआईओएस से समस्याओं का निराकरण करने की मांग की है। प्रशिक्षितों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर शीघ्र ही समस्या का समाधान नहीं हुआ तो संगठन आन्दोलन करेगा। डीएलएड प्रशिक्षितों की एक बैठक संगठन के जिलाध्यक्ष अनूप रमोला की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिलाध्यक्ष अनूप रमोला ने कहा कि कुछ प्रशिक्षणार्थियों के डब्ल्यूबीए,पीसीपी व पीटी पूर्ण न होने की दशा में उन्हें अनुपस्थित दिखाना उनके साथ अन्याय है। उन्हें एक बार पुनः अवसर प्रदान किया जाना चाहिए। कहा कि देशभर के बच्चों के शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए केन्द्र सरकार ने अप्रशिक्षित शिक्षकों को प्रशिक्षित कराने का निर्णय लिया था। तथा इसके तहत द्विवर्षीय डीएलएड कोर्स का प्रावधान किया। जिसमें देशभर से लगभग 14 लाख अप्रशिक्षित शिक्षकों ने प्रतिभाग किया। उन्होंने आरोप लगाया कि एनआईओएस के द्वारा प्रशिक्षितों के साथ अन्याय किया जा रहा है जिसे बर्दास्त नहीं किया जायेगा। दो वर्षीय पाठयक्रम में प्रशिक्षितों के सामने कई समस्याएं आईं। जिसके कारण कई प्रशिक्षणार्थी पीसीपी की कुछ कक्षाएं पूर्ण नहीं कर पाये जबकि उनका परीक्षा परिणाम सन्तोषप्रद रहा था। परन्तु उन्हें अंकपत्र में अनुपस्थित दिखाया गया है। जो उनके साथ सरासर अन्याय है। इससे उनका भविष्य अधर में लटक गया है। एनआईओएस से बात करने पर कोई जबाब नहीं दिया जा रहा है। बैठक का संचालन सचिव गुरुप्रसाद थपलियाल ने किया। इस मौके पर उपाध्यक्ष दिनेश बिष्ट, सदस्य कालिका काण्डपाल, विजेन्द्र कुमार, राकेश नौटियाल, दीपक सेमवाल, कलावती बिष्ट, सुरेन्द्र त्रिपाठी, यशवन्त नेगी, लता कण्डारी आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Discussion of problems in the meeting of DLAD trainers