DA Image
2 दिसंबर, 2020|6:38|IST

अगली स्टोरी

दिव्यांग शिक्षितों के लिए खुला कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र

default image

क्यूंजा घाटी के कंडारा गांव में गोकुल संस्था द्वारा दिव्यांगों के लिए कंप्यूटर प्रशिक्षण के लिए केंद्र का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि रुद्रप्रयाग के विधायक भरत सिंह चौधरी ने कहा कि संस्था का यह प्रयास जरूरतमंदों के लिए मील का पत्थर साबित होगा। अति विशिष्ठ अतिथि जिपं सदस्य सुमन सिंह नेगी ने कहा कि कंप्यूटर प्रशिक्षण दिव्यांग शिक्षितों के लिए आजिविका का साधन बन सकता है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मोहन जगुड़ी ने कहा कि गांवों में रहने वाले दिव्यांग को शिक्षा व स्वरोजगार से जोड़ने की यह अनूठी पहल है। स्कूल जाने में असक्षम शिक्षित युवा घर में ही शिक्षा प्रदान कर सकते हैं। संस्था की सचिव मधु मैखुरी ने कहा कि जरूरतमंद दिव्यांगों को शिक्षा व स्वरोजगार से जोड़ने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। संस्था की कोशिश है कि ऐसे दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को आधुनिक शिक्षा के साथ ही कम्पयूटर की शिक्षा दी जाए। ताकि बच्चे आगे चलकर अपना लक्ष्य हासिल कर सके। इस मौके पर कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र के संचालक दिव्यांग विनोद नेगी ने कहा कि गोकुल संस्था से जुड़कर वे स्वरोजगार के लिए प्रेरित हुए हैं। इस मौके पर ग्राम प्रधान ज्योति नेगी, नेहा जगुड़ी, विपिन रावत समेत अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Computer training center open for differently-abled educators