अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिमालय दिवस पर केदारनाथ में पुलिस ने तैयार किया बुग्याल-VIDEO

हिमालय दिवस पर केदारनाथ में पुलिस ने तैयार किया बुग्याल

केदारनाथ में पुलिस ने एक और बेहतर कार्य कर दिखाया है। ब्रह्मवाटिका के बाद अब केदारनाथ के बेस कैंप में पुलिस ने बुग्याल तैयार किया है जो हरा-भरा हो गया है। हिमालय दिवस पर पुलिस ने इसके बारे में जानकारी दी। वन विभाग की वन अनुसंधान रेंज गोपेश्वर ने इसे बेहतर और उत्कृष्ट पहल बताया।केदारनाथ धाम में पुलिस अपने कार्यों के साथ ही तीर्थयात्रियों की सेवा के अलावा कई प्रेरणादायक कार्य कर रही है। बीते पांच सालों से केदारनाथ में चौकी प्रभारी के रूप में रहते हुए एसआई बिपिन चन्द्र पाठक के नेतृत्व में पुलिस ने ऐसे कई कार्य किए जो न केवल प्रेरणा बन गए हैं बल्कि चौकाने वाले भी हैं। 11700 फीट की ऊंचाई पर ब्रह्मवाटिका तैयार कर ब्रह्मकमल उगाना, आलू और हरी सब्जी उगाने जैसे बेहतर कार्य शामिल है। बीते चार महीनों से एसआई बिपिन चन्द्र पाठक ने अपनी पूरी टीम के साथ 17 से 18 हजार फीट की ऊंचाई से बुग्याल लाने का काम किया। हर बार में 20 से 30 लोगों की टीम बुग्याल लेकर आती रही। बेस कैंप में ब्रह्मवाटिका के पीछे 8 मीटर चौड़ी और 10 मीटर लम्बा क्षेत्र में इस बुग्याल को लगाया गया। पहले सिंचाई से इसे जीवित करने काम किया गया और फिर बरसाती सीजन ने इसमें जान डाल दी। इस समय बुग्याल हरा-भरा हो गया है। बुग्याल के चारों ओर स्थानीय फूलों के पौधे लगाए गए हैं ताकि इसका बेहतर संरक्षण हो सके। वन अनुसंधान रेंज गोपेश्वर के प्रभारी रेंजर आरपी जोशी ने बताया कि यह अभिनव पहल है।

 

बुग्याल को देखकर इसके जीवित रहने के ज्यादा असार है। अगले साल इसकी सही पहचान की जा सकेगी। उन्होंने पुलिस के प्रयासों की सराहना की। इधर बिपिन चन्द्र पाठक ने बताया कि चार महीनों से इस कार्य को किया जा रहा है। हिमालय दिवस के मौके पर बुग्याल के बारे में बताकर काफी खुशी हुई। केदारनाथ पुलिस हिमालय की रक्षा के लिए लगातार प्रयास में जुटी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Biwiyal prepared by police at Kedarnath on Himalaya Day