DA Image
22 सितम्बर, 2020|4:31|IST

अगली स्टोरी

युकां-एनएसयूआई ने राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मनाया

default image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिन को युवा कांग्रेस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया। अलग-अलग जगह कार्यक्रम कर कहा कि सरकार के पास युवाओं के लिए कोई नीति नहीं है।

एनएसयूआई और युवा कांग्रेस ने एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सचिन चौधरी के नेतृत्व में राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस मनाया। डीएवी कॉलेज के बाहर पकोड़े तल कर केंद्र पर निशाना साधा। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ने कहा कि सरकार युवाओं को रोजगार देने में विफल रही है। कहा कि प्रधानमंत्री ने शिक्षित युवाओं को पकोड़े तलने और चाय का स्टॉल लगाने को भी एक रोजगार बताया था। आरोप लगाया कि सरकार लगातार देश के युवाओं के साथ रोजगार के नाम पर छलावा कर रही है। 2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था। छह साल में भी दो करोड़ लोगों के रोजगार नहीं दिया गया। अब लोगों के रोजगार छीने जा रहे हैं। पढ़ा-लिखा युवा बेरोजगारी के कारण अवसाद में है। सरकार की नीतियां युवा और छात्र विरोधी है।

इस दौरान राजू चौधरी, रवि चौधरी, रजत, विशाल, मुदित शर्मा, भानु, अनुराग चौधरी, आकाश चावला, विजय त्यागी, निशांत चौधरी, इब्राहिम, प्रिंस चौधरी, छोटू आदि मौजूद रहे। वहीं, एनएसयूआई हरिद्वार की ओर से गणेशपुर स्थित कार्यालय में राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस पर विरोध प्रदर्शन किया गया। जिला उपाध्यक्ष मनीष परमार ने कहा कि सरकार के पास युवाओं के लिए कोई ठोस नीति नहीं है। भारत की बड़ी आबादी युवा है। सरकार की नीतियों के कारण युवाओं को आगे बढ़ने का रास्ता नजर नहीं आ रहा है। युवाओं को रोजगार चाहिए और सरकार केवल बयान दे रही है। कहा कि जब से केंद्र में भाजपा की सरकार आई है तब से ही उसकी नीति युवा विरोधी है। इस दौरान मुकुल प्रधान, नितिन प्रधान, कुणाल पंडित, कार्तिक चौधरी, सिद्धार्थ अरोड़ा आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UK-NSUI celebrated National Unemployment Day