DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे कालोनी के लोग गंदगी से परेशान

रेलवे कालोनी के लोग गंदगी से परेशान

1 / 2रेलवे कालोनी से सटी प्राईवेट कालोनी के लोग भी हुए परेशान . ए श्रेणी के रेलवे स्टेशन की कालोनी हुई बदहाल रुड़की। हमारे संवाददाता रुड़की स्थित रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी कालोनी में रह रहे लोगों के लिए...

रेलवे कालोनी के लोग गंदगी से परेशान

2 / 2रेलवे कालोनी से सटी प्राईवेट कालोनी के लोग भी हुए परेशान . ए श्रेणी के रेलवे स्टेशन की कालोनी हुई बदहाल रुड़की। हमारे संवाददाता रुड़की स्थित रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी कालोनी में रह रहे लोगों के लिए...

PreviousNext

रुड़की स्थित रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी कालोनी में रह रहे लोगों के लिए मुसीबत बन चुकी है। इससे रेलवे कालोनी से सटी प्राइवेट कालोनी के लोगों को भी गंदगी की मार झेलनी पड़ रही है। लोग कई बार इसकी शिकायत अधिकारियों से कर चुके हैं। लेकिन आज तक समस्या का कोई हल नहीं निकल पाया है। रुड़की रेलवे स्टेशन ए श्रेणी के रेलवे स्टेशन में से एक है। लेकिन रुड़की रेलवे स्टेशन के निकट बनी रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी रुड़की रेलवे स्टेशन को ए श्रेणी के सूची में रखने पर सवालिया निशान खड़ा कर रही है। रेलवे कालोनी स्थित नाले में पसरी गंदगी, बड़ी-बड़ी झाड़ियां केवल रेलवे कालोनी में रहने वाले कर्मचारियों के लिए ही मुसीबत नहीं बन चुकी है। वहीं रेलवे कालोनी के निकट बनी प्राइवेट कालोनी महावीर इंक्लेव के लोग भी इससे परेशान हो चुके हैं। महावीर इंक्लेव में रहने वाले बुजुर्ग रामेश्वर प्रसाद का कहना है कि रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी के चलते उनके घरों में मक्खी मच्छर आने लगें हैं। कहा कि नगर निगम, रेलवे विभाग से लेकर सभी अधिकारियों को इसकी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो पाया। क्षेत्रीय निवासी अवतार सिंह, राजेश, सुमन, आशीष, विरेंद्र और कमल ने कहा कि रेलवे कालोनी में पसरी गंदगी क्षेत्र के लिए मुसीबत बन चुकी है। वहीं स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक और तीन पर भी झाड़ियां उग चुकी हैं। स्टेशन अधीक्षक एसके वर्मा ने कहा कि रेलवे कालोनी से इस प्रकार की कोई लिखित शिकायत मिलने पर संबंधित विभाग के अधिकारियों को सूचित कर सफाई व्यवस्था को सुचारू कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Trouble becoming a mess in the railway colony