DA Image
7 अगस्त, 2020|1:15|IST

अगली स्टोरी

छत पर मोबाइल बूस्टर लगाने पर पथराव

default image

गांव में कॉमन सर्विस सेंटर चलाने वाले एक युवक द्वारा अपनी छत पर मोबाइल बूस्टर लगवाया जा रहा था। जिसका पड़ोस के लोगों ने विरोध किया। देखते ही देखते दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए तथा एक-दूसरे पर पथराव शुरू कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से 20 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस का कहना है इन सभी के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

कोतवाली क्षेत्र के गांव लहबोली निवासी व्यक्ति गांव में कॉमन सर्विस सेंटर चलाता है। जहां पर सरकारी योजनाओं का ऑनलाइन कार्य किया जाता है। इंटरनेट की स्पीड कम होने के कारण उसके कार्य में बाधा उत्पन्न होती है। इसके लिए वह अपने दुकान की छत पर मोबाइल बूस्टर लगवा रहा था। इसका पड़ोस में रहने वाले कुछ लोगों ने विरोध किया। देखते ही देखते दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई तथा दोनों पक्ष एक-दूसरे के सामने आ गए। उसके बाद दोनों ओर से पथराव शुरू हो गया। जिसमें कई लोगों के घायल होने की बात भी सामने आई है।

ईद के मौके पर संवेदनशील समझे जाने वाले गांव में पथराव की सूचना पर पुलिस सक्रिय हो गई। उपनिरीक्षक भज राम चौहान, ललिता खंडेलवाल, उषा लिंगवाल व अन्य पुलिस कर्मियों के साथ भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। जिसके बाद पुलिस ने लाठियां फटकार कर भीड़ को तितर-बितर किया। पुलिस ने मौके से 20 लोगों को हिरासत में लिया है। इस संबंध में इंस्पेक्टर मंगलौर प्रदीप चौहान का कहना है कि कोविड-19 के चलते पूरे क्षेत्र में धारा 144 लागू है तथा भीड़ जमा होने पर भी पाबंदी है। ऐसे में इतने लोग एक साथ जमा हुए इन सभी के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया जाएगा। साथ ही अन्य धाराओं में भी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Throwing stones on mobile roofers