DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  रुड़की  ›  कोतवाली में पांच घंटे हुआ जमकर हंगामा व नारेबाजी

रुडकीकोतवाली में पांच घंटे हुआ जमकर हंगामा व नारेबाजी

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:40 PM
कोतवाली में पांच घंटे हुआ जमकर हंगामा व नारेबाजी

एडवोकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष के बेटे की गिरफ्तारी से नाराज वकीलों और अन्य संगठनों ने देर शाम कोतवाली में जमकर हंगामा कर प्रदर्शन किया। इससे निपटने को पथरी, खानपुर थाने की पुलिस के साथ ही पीएसी बुलाई गई। हालांकि पांच घंटे बाद युवक को जमानत पर छोड़े जाने पर विवाद शांत हो गया।

सोमवार को एसआई एकता ममगाई नगर में बालावाली चौक पर चेकिंग कर रही थी। तभी लक्सर एडवोकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष स्वर्गीय राजकुमार तोमर का बेटा अभिषेक पास में स्थित अपने घर से बाइक पर आटा लाने निकला था। हेलमेट न होने पर दारोगा ने उसका चालान काट दिया। नाराज अभिषेक ने चालान के पैसे तो दे दिए, पर चालान वहीं फेंककर चला गया। आटा लेकर आते समय पुलिस उसे दोबारा रोककर चालान काटने लगी। इसी बात पर उसकी पुलिस से कहासुनी हो गई। आरोप है कि अभिषेक ने पुलिस से हाथापाई की। इस पर पुलिस उसे गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई और उसके खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज कर दिया। पता चलने पर एसोसिएशन अध्यक्ष कुशलपाल सिंह तहसील के पचास से भी अधिक वकीलों को लेकर कोतवाली पहुंच गए और पुलिस कार्रवाई के खिलाफ हंगामा तथा नारेबाजी करने लगे। नपा अध्यक्ष अंबरीश गर्ग, व्यापार मंडल अध्यक्ष अतुल गुप्ता, व्यापारी नेता अजय वर्मा, किसान नेता कीरत सिंह भी उनकी तरफ से कोतवाली पहुंच गए। इस दौरान हंगामे को देखते हुए पीएसी के अलावा खानपुर व पथरी थाने की पुलिस बुला ली गई। बाद में सीओ विवेक कुमार व कोतवाल प्रदीप चौहान ने उनसे वार्ता की। करीब पांच घंटे तक चले हंगामे के बाद आखिर धारा 41 का नोटिस तामील कराकर अभिषेक को जमानत पर छोड़ा गया। इसके बाद हंगामा शांत हुआ। कोतवाल चौहान का कहना है कि जमानती धारा होने के कारण युवक को कोतवाली से जमानत दी गई है।

संबंधित खबरें