DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

- इंजीनियर बनने का सपना संजोए है श्यामपुर का पुरुषोत्तम

लालढांग क्षेत्र के श्यामपुर गांव निवासी पुरुषोत्तम गोयल ने जेईई एडवांस में 5634वीं रैंक हासिल कर अपने गांव का नाम रोशन किया है। पुरुषोत्तम भविष्य में इंजीनियर कर माता-पिता के सपनों को पूरा करना चाहते हैं। पूरा गांव इस होनहार बेटे पर नाज कर रहा है।पुरुषोत्तम का परिवार मूलरूप से श्यामपुर गांव का ही रहने वाला है। परिवार की आर्थिक स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है। पिता संजय गोयल गांव में ही हार्डवेयर की दुकान चलाते हैं। पुरुषोत्तम शुरुआत से ही पढ़ाई में तेज रहे। बेटे की प्रतिभा को देखते हुए माता-पिता ने भी उसे ऊंचे मुकाम तक पहुंचाने की ठानी है। इंजीनियर बनने का सपना देखने वाले पुरुषोत्तम ने जब माता-पिता के सामने इस बात का जिक्र किया तो उन्होंने बेटे को कोचिंग कराने की ठानी। इसके लिए पिता ने कर्ज लिया और बेटे का कोचिंग इंस्टीट्यूट में दाखिला कराया। 2016 में 12वीं में 89 प्रतिशत अंक हासिल करने के बाद इस साल जेईई एडवांस में मिली सफलता का श्रेय पुरुषोत्तम अपने माता-पिता को देते हैं। पिता संजय गोयल का कहना है कि उनका एक बेटा और एक बेटी अवंतिका है। बेटे को इंजीनियर बनाना चाहते हैं। मां रजनी गोयल को भी पूरा विश्वास है कि उनका बेटा एक दिन बड़ा इंजीनियर जरूर बनेगा। परिवार में कोई भी ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The dream of becoming an engineer is in Shayampur's Purushottam