DA Image
31 अक्तूबर, 2020|10:35|IST

अगली स्टोरी

अवैध खनन का विरोध करने पर प्रधान को पीटा

ग्राम सभा की जमीन से अवैध खनन करने का विरोध करने पर खनन करने वालों ने ग्राम प्रधान के साथ मारपीट की। दूसरे ग्रामीणों ने किसी तरह ग्राम प्रधान को छुड़ाया। बाद में ग्राम प्रधान ने गांव के 6 लोगों को नामजद करते हुए सुल्तानपुर चौकी में तहरीर दी है।

कांवड़ यात्रा के चलते पुलिस और तहसील प्रशासन व्यस्त है। इसका लाभ खनन करने वाले उठा रहे हैं। प्रतापपुर और निहंदपुर सुठारी गांवों में बाणगंगा में खनन करने वाले अवैध खनन करने में लगे हुए हैं। अवैध खनन करने वाले उपजाऊ भूमि के साथ ही गंगा और ग्राम सभा की भूमि को खोदकर स्टोन क्रशर पर ऊंचे दामों में बेचकर चांदी काट रहे हैं। झिवेरहेड़ी गांव में रविवार रात को ग्राम प्रधान प्रदीप कुमार को पता चला कि कुछ लोग गांव की ग्राम सभा की जमीन में अवैध खनन कर रहे हैं। ग्राम प्रधान ने मौके पर पहुंचकर अवैध खनन करने वालो को रोकने का प्रयास किया तो वे भड़क गए और ग्राम प्रधान के साथ गाली-गलौज करने करने लगे। इसके बाद प्रधान ने स्टोन क्रशर स्वामी से ग्राम सभा से निकाली गई खनन सामग्री लेने से मना किया तो खनन स्वामियों ने ग्राम प्रधान के साथ मारपीट शुरू कर दी। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। बाद में सोमवार सुबह ग्राम प्रधान ने मामले की तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। चौकी प्रभारी नंदकिशोर गवाड़ी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।