DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तराखंड › रुड़की › किसानों को बताई गई गन्ना विभाग की योजनाएं
रुडकी

किसानों को बताई गई गन्ना विभाग की योजनाएं

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 05:00 PM
किसानों को बताई गई गन्ना विभाग की योजनाएं

लक्सर सहकारी गन्ना विकास परिषद की तरफ से लक्सर के भोगपुर गांव में कृषक प्रचार, प्रसार एवं प्रशिक्षण गोष्ठी आयोजित की गई। गोष्ठी में अधिकारियों ने गन्ने की उन्नत खेती के बारे में जानकारी दी। साथ ही गन्ना विभाग की योजनांए बताकर किसानों से इनका लाभ उठाने की अपील भी की गई।

परिषद के ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक प्रदीप कुमार वर्मा ने गोष्ठी की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि गन्ने की खेती में लागत घटाकर बढ़िया पैदावार लेना एक चुनौती है। इसके लिए जरूरी है कि किसान नई तकनीकी अपनाकर वैज्ञानिक विधि से गन्ने की खेती करें। लक्सर चीनी मिल से आए राहुल कुमार लोहान ने कहा कि किसानों को पुराने परंपरागत बीच के स्थान पर गन्ने की ऐसी प्रजातियों की बुआई करनी होगी, जिनकी न सिर्फ औसत पैदावार अधिक हो, बल्कि उनमें शर्करा की रिकवरी भी ज्यादा हो। उन्होंने बताया कि मिल द्वारा ऐसी कई प्रजातियों को उत्तराखंड व दूसरे राज्यों के गन्ना शोध संस्थान से मंगवाकर किसानों को दिया जाता है। परिषद के गन्ना विकास निरीक्षक समय सिंह ने गन्ने के पेड़ी प्रबंधन के अलावा इसमें लगने वाले कीट और बीमारियों की जानकारी दी। साथ ही इनसे निपटने के उपाय भी बताए। गोष्ठी का संचालन कर रहे गन्ना विकास निरीक्षण प्रीतम सिंह ने गन्ना विभाग की योजनाओं की जानकारी दी और इनका लाभ उठाने की अपील भी की। इसके अलावा किसानों को गन्ना बोने की ट्रैंच विधि से गन्ने की बुआई के लाभ और सहफसली खेती के बारे में भी किसानों को जानकारी दी गई। गोष्ठी में अर्जुन, बाबूराम, अमर सिंह, सोमपाल, सेठपाल, संजय कुमार, जोगेंद्र, सुखपाल, सोरण सिंह, ब्रजपाल, बीरसैन, मामचंद, यशवीर, जसवीर, धनीराम, कंवरपाल, योगेश कुमार, नंदराम, जितेंद्र शर्मा सहित पचास किसानों ने प्रशिक्षण लिया।

संबंधित खबरें