DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईएएस परीक्षा में रुड़की रोहन की 294वीं रैंक

आईएएस परीक्षा में रुड़की रोहन की 294वीं रैंक

सिविल सेवा परीक्षा में 294वीं रैंक हासिल करने वाले रुड़की के रोहन कुमार पहले प्रयास में भले ही असफल रहे, लेकिन उन्होंने तभी समझ आ गया कि पढ़ने का तरीका गलत है। इसके बाद उन्होंने इस गलती को सुधारा और दूसरे ही प्रयास में शानदार रैंक हासिल की।  आईआईटी के वैकल्पिक ऊर्जा विभाग में प्रोफेसर पिता अरुण कुमार के बेटे रोहन ने एपीएस दो स्कूल से इंटर में टॉप किया। इसके बाद उन्होंने आईआईटी रुड़की से ही कंप्यूटर एप्लीकेशन से बीटेक शुरू कर दी। चौथे वर्ष में उन्हें बीटेक के बाद नौकरी को लेकर चिंता होने लगी। उन्हें लगा कि वे 40 साल तक इंजीनियर की नौकरी में काफी बोर हो जाएंगे। ऐसे में उन्हें आईएएस बनने का विचार आया। इस विचार को उन्होंने अपनी जिद बना लिया। पहले साल इंटरव्यू में असफल रहे लेकिन तभी उन्हें अपनी तैयारी के दौरान की गई गलतियों को समझ लिया। फिर उन्हें तराशकर इस साल आईएएस में 294 रैंक हासिल की। उधर, बेटे की इस सफलता पर पिता प्रो. अरुण कुमार और मां अल्का काफी खुश हैं।  रोहन के अनुसार तैयारी करने वाले छात्र छात्राएं किताबों को पढ़ते हैं। जबकि उन्हें विषय को पढ़ने की जरूरत होती है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2015 में पहली कोशिश के दौरान उन्हें यह गलती समझ में आ गई। इसके बाद उन्होंने विषय को पकड़ा और फिर इस साल सफलता मिली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:rohan gote ias post roodkee