DA Image
12 अगस्त, 2020|1:08|IST

अगली स्टोरी

रुड़की में घर में पढ़ी नमाज

default image

रमजान के पहले जुमे पर लोगों ने घरों में नमाज अदा की। पुलिस ने ड्रोन कैमरे की मदद से मस्जिदों पर नजर रखी। मस्जिदों में चार लोगों को ही नमाज पढ़ने की अनुमति थी।रमजान शुरू होने से पहले ही पुलिस ने धर्मगुरुओं से संवाद कर सामूहिक रूप से नमाज न पढ़ने को कहा था। कोरोना में सोशल डिस्टेंसिंग लागू करने के लिए सामूहिक नमाज पर रोक है। इसके साथ ही धारा 144 भी लागू हैं। जिसमें एक जगह पर पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक साथ एकत्र नहीं हो सकते हैं। मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी लोगों से अपील की थी कि वह मस्जिदों में सामूहिक नमाज पढ़ने न आएं। घर से ही इबादत करने को कहा था। शुक्रवार को रोजेदारों ने घरों में ही नमाज पढ़ी और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा। इस दौरान पुलिस भी सक्रिय रही। पुलिस ने मस्जिदों के आसपास ड्रोन कैमरों की मदद से नजर रखी। सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने विभिन्न मस्जिदों के आसपास नजर रखी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Prayer offered at home in Roorkee