Nation devotees create new history Tribhuvan - राष्ट्र भक्त युवा नया इतिहास बनाने योग्य:त्रिभुवन DA Image
16 दिसंबर, 2019|4:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्र भक्त युवा नया इतिहास बनाने योग्य:त्रिभुवन

default image

आरएसएस की ओर से 15 महाविद्यालयों के विद्यार्थियों का दो दिवसीय आवासीय शिविर आयोजित किया गया। शिविर में योग, आसन, खेल, समता एवं बौद्धिक सत्र हुए। छात्रों ने संकल्प लिया कि राष्ट्र में सामाजिक समरसता, कर्मठता, समानता, संपन्नता, ज्ञान, सुख एवं शांति के लिए प्रयास करते रहेंगे और वैभवशाली भारत के संकल्प को साकार करेंगे । आनन्द स्वरूप सरस्वती विद्या मंदिर में आयोजित शिविर का शुभारंभ आन्जनेय ने राष्ट्रभक्ति गीत पुष्प धरा पर जन्म लिया है, यह सौभाग्य हमारा है, इसकी माटी कण-कण चंदन, हमें प्राण से प्यारा है से किया गया। जिला कार्यवाह त्रिभुवन ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि पवित्र भगवा ध्वज को प्रणाम करने से आरएसएस का स्वयंसेवक बन जाता है। जिस राष्ट्र के नवयुवकों के मन में अतीत का वैभव, ह्रदय में वर्तमान की पीड़ा और आंखों में भविष्य के सपने होते हैं वही राष्ट्र सर्वशक्तिमान होता है। उन्होंने संघ संस्थापक डॉ. केशवराम बलिराम हेडगेवार का जीवन वर्णन करते हुए देश की आजादी में उनका योगदान एवं दृष्टिकोण से अवगत कराया। उनका मानना था कि देश की गुलामी का कारण देश के मूल समाज का आत्मकेंद्रित होना, आत्मविस्मृत समाज तथा सामूहिक अनुशासन का अभाव था। देश में आजादी को स्थायी करने के लिए डॉ. हेडगेवार का कहना था कि भारत हिंदू राष्ट्र रहा है। संगठन में शक्ति है तथा शक्ति का आधार व्यक्ति है। व्यक्तित्व निर्माण के लिए 1925 में संघ की स्थापना की। जिसका उद्देश्य भारत माता को परम वैभव पर ले जाना है। उन्होंने कहा था कि संगठन चार स्तर से गुजरता है। उपहास, प्रतिरोध, समाज में स्वीकार्यता तथा अंत में परिणाम प्राप्त होता है । जिला संघ चालक प्रवीण ने कहा कि आज का युवा भविष्य का भारत निर्माता है। युवाओं द्वारा ही भारतीय दर्शन को विश्व में फैलाने, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में तथा विज्ञान, तकनीकी में भारत का मान बढ़ाने वाले, इतिहास रचने वाले सभी युवा थे। उन्होंने आह्वान किया कि व्यक्तिगत सुख, अभिलाषाओं से अधिक महत्व राष्ट्र को दें। कार्यक्रम में शिविर प्रमुख नवीन, जिला विद्यार्थी प्रमुख विवेक, जिला प्रचारक नरेन्द्र, जिला शारीरिक प्रमुख रमेश, रोहित , त्रिलोक, संदीप आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nation devotees create new history Tribhuvan