DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तराखंड  ›  रुड़की  ›  मानसून को लेकर नगर निगम हुआ अलर्ट
रुडकी

मानसून को लेकर नगर निगम हुआ अलर्ट

हिन्दुस्तान टीम,रुडकीPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 08:50 PM
निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है।
रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
1 / 4निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है। रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है।
रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
2 / 4निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है। रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है।
रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
3 / 4निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है। रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है।
रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...
4 / 4निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है। रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख...

नगर निगम झमाझम मानसूनी बारिश से पहले ही जलभराव की समस्या के निजात के इंतजाम में तेजी का दावा किया है। नाला गैंग में 200 कर्मचारियों की तैनाती के लिए बोर्ड में प्रस्ताव पास कर भर्ती शुरू हो चुकी है। वर्तमान में करीब पांच नाला गैंग काम करना शुरू कर दिया है। निगम के दावे बारिश में कितने खरे उतरते हैं इस पर सबकी नजर है।

रुड़की नगर निगम क्षेत्र में जलभराव एक प्रमुख समस्या है। बरसाती सीजन में कई क्षेत्रों में जलभराव की समस्या पैदा हो जाती है। जलभराव की समस्या सबसे अधिक मोहनपुरा, कृष्णानगर और पुरानी तहसील इलाके में रहती है। नगर निगम के मेयर ने नालों की सफाई के लिए नाला गैंग और मशीनों के टेंडर के प्रस्ताव को पास कराने के लिए नगर निगम बोर्ड का विशेष अधिवेशन भी बुलाया था। बोर्ड अधिवेशन में मात्र एक प्रस्ताव को पास किया गया था। जिसमें नाला गैंग में दो सौ कर्मचारियों की आउट सोर्स के माध्यम से भर्ती और नालों की सफाई के लिए जेसीबी और ट्रेक्टर ट्राली किराए पर लेना। जबकि नगर निगम के कई क्षेत्रों में नाला गैंग ने काम करना शुरू कर दिया है। सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट ने बताया कि मोहनपुरा के जोहड़ में जमा पानी को निकालने के लिए पंप लगाए हुए हैं। जिसके माध्यम से जोहड़ में पानी कम हो सके और बारिश का पानी में जमा हो सके। उन्होंने बताया कि इस प्रकार कृष्णा नगर के तालाब का पानी पिछले वर्ष दिसम्बर में भी पंप के माध्यम से साफ कराया था। सहायक नगर आयुक्त ने बताया कि जलभराव से निपटने के लिए पांच पंप और पानी खिंचने वाली बड़ी मशीन भी नगर निगम के पास हैं।

संबंधित खबरें