DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व प्रधान और तत्कालीन दो वीडीओ पर गबन का मुकदमा

लक्सर पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर सुल्तानपुर के पूर्व प्रधान और तत्कालीन दो ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों के खिलाफ सरकारी धन के गबन के आरेप में मुकदमा दर्ज किया है। उन पर गांव की साप्ताहिक पीठ की नीलामी से मिले करीब तीन लाख रुपये हड़पने का आरोप है। पुलिस जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कह रही है।

सुल्तानपुर में पिछले कई साल से सोमवार व गुरुवार को साप्ताहिक पीठ बाजार लगता है। ग्राम पंचायत इसकी वार्षिक नीलामी करती है। पिछले दिनों गांव के आरटीआई कार्यकर्ता अमीरुल हसन पुत्र असगर हसन ने पीठ की नीलामी के बाबत सूचना मांगी थी। पता चला कि वर्ष 2011 से 2015 तक चार बार पीठ की नालामी कुल 11 लाख 88 हजार 500 रुपये में छोड़ी गई। जबकि पीठ से वसूली की कुल 8 लाख 94 हजार की रकम की आमद ही पंचायत के दस्तावेजों में दर्शायी गई।

बाकी के 2 लाख 93 हजार 550 रुपये पूर्व प्रधान और तत्कालनीन पंचायत सचिव ने गबन कर लिए। नीलामी की धनराशि में से तीन बार में 72850 रुपये मिट्टी भराव औा अन्य कार्यों पर खर्च दिखाया गया। आरोप है कि मौके पर कोई काम नहीं किया गया। अमीरुल ने पूर्व प्रधान उमर आदिल, पूर्व पंचायत सचिव रिजवान अहमद व नंदलाल के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी, पर कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद अमीरुल ने लक्सर एसीजेएम कोर्ट में प्रार्थनापत्र दिया था। कोर्ट ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश लक्सर पुलिस को दिए थे। कोतवाल अमरचंद शर्मा ने बताया कि तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अमीरुल हसन ने पिछले साल भी पूर्व प्रधान उमर आदिल व तत्कालीन सचिव रिजवान पर सरकार के करीब सत्रह लाख रुपये के गबन का आरोप लगाते हुए लक्सर में मुकदमा दर्ज कराया था। इसकी जांच एसआईएस कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lawsuit filed against gormer gram pradhan and two vdo