DA Image
24 सितम्बर, 2020|7:29|IST

अगली स्टोरी

शिक्षक हत्याकांड का खुलासा नहीं होने पर जाम की चेतावनी

default image

शिक्षक ओम सिंह हत्याकांड को लेकर आयोजित क्षत्रिय कल्याण महासभा ने महापंचायत कर लक्सर पुलिस पर मामले का रुख जान बूझकर दूसरी तरफ घुमाने का आरोप लगाते हुए रोष व्यक्त किया गया। उन्होंने चार दिन में मामले का खुलासा नहीं होने पर लक्सर में रोड जाम करने की चेतावनी दी है।

इसी तीन सितंबर की रात को ओसपुर (लक्सर) निवासी सरकारी शिक्षक ओमसिंह चौहान की गोली मारकर हत्या की गई थी। अभी तक मामले का खुलासा नहीं होने से नाराज क्षत्रिय चौहान कल्याण महासभा ने पत्थरेश्वर महादेव मंदिर में चौहान समाज की महापंचायत बुलाई। इसमें मृतक के परिजनों व अन्य लोगों ने आरोप लगाया कि हत्या पैसों की वजह से हुई है, जबकि पुलिस जान बूझकर इसका रुख अवैध संबंधों की तरफ घुमाकर असली हत्यारों को बचा रही है। जिन पर परिजनों को शक है, उनसे पूछताछ करने के बजाय पुलिस उल्टे मृतक के भाई, साले व रिश्तेदारों से मारपीट कर रही है। इनमें कई पुलिस की मारपीट के चलते घायल हैं। इस पर लक्सर विधायक संजय गुप्ता, हरिद्वार देहात विधायक स्वामी यतीश्वरानंद, महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयपाल सिंह चौहान, महामंत्री ठाकुर रविंद्र सिंह, प्रदेश अध्यक्ष धर्मराज चौहान ने लक्सर कोतवाल हेमेंद्र सिंह नेगी व एसएसआई अभिनव शर्मा को मौके पर बुलाकर जानकारी ली। उन्होंने तीन दिन में मामले के खुलासे का भरोसा दिया। महासभा ने खुलासा न होने पर चार दिन बाद सड़क जाम करने की चेतावनी दी है। अध्यक्षता अखिल गिरी, संचालन त्रिलोक सिंह चौहान ने किया।

महापंचायत में महेंद्र चौहान, राजू सैनी, बलवंत सिंह चौहान, रविंद्र चौहान, राजवीर सिंह, सतीश चौहान, कदम सिंह, नेत्रपाल, सुरेश प्रधान, डॉ. महीपाल, धर्मसिंह, सुबेराम प्रधान, बिजेंद्र सिंह, बीरमपाल, मांगेराम, भंवर सिंह, अजय चौहान, बुद्धराज सिंह, सोनू चौहान, श्रवण कुमार, रतन सिंह, जबरसिंह, कृष्णपाल, अजबसिंह, श्रीराम, राजकुमार, धर्मेंद्र, जयप्रकाश, सुरेश कुमार, विनोद कुमार, हरदीप सिंह, सुभाष चौहान, देवेंद्र सिंह, प्रदीप चौहान, प्रेमचंद आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jam alert for teacher murder case not disclosed